कूचबिहार हिंसा दीदी के भाषण का नतीजा? अमित शाह ने ममता को ठहराया जिम्मेदार

गृह मंत्री अमित शाह ने कूचबिहार हिंसा के लिए ममता बनर्जी को जिम्मेदार ठहराया है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के भड़काऊ भाषण की वजह से लोगों की मौत हुई.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Apr 11, 2021, 09:39 PM IST
  • अमित शाह ने कूचबिहार हिंसा पर ममता दीदी को कोसा
  • कहा- ममता बनर्जी ने हिंसा के लिए लोगों को उकसाया
कूचबिहार हिंसा दीदी के भाषण का नतीजा? अमित शाह ने ममता को ठहराया जिम्मेदार

कोलकाता: पश्चिम बंगाल (West Bengal) के कूचबिहार में हुई हिंसा को लेकर सियासत गरमाती जा रही है, गृह मंत्री अमित शाह ने इस हिंसा का जिम्मेदार ममता बनर्जी को ठहराया है. बंगाल में नादिया जिले के शांतिपुर में एक रोड शो के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ममता बनर्जी पर निशाना साधा.

'ममता बनर्जी के उकसावे से हिंसा हुई'

कूचबिहार के सीतलकुची में एक मतदान केंद्र पर हुई हिंसा के लिए उन्होंने ममता बनर्जी को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि एक बूथ पर कुछ अज्ञात लोगों ने हमला किया. सुरक्षा बल को अपने बचाव में गोली चलानी पड़ी इसमें चार लोगों की मृत्यु हुई है. कूचबिहार की घटना दुखद बताते हुए उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी के उकसावे से हिंसा हुई.

अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि 'बंगाल के चुनाव  के चौथे चरण के मतदान में कल एक दुखद घटना हुई. एक बूथ पर कुछ अज्ञात लोगों ने हमला किया केंद्रीय सुरक्षा बल के हथियार लूटने का प्रयास किया, सुरक्षा बल को अपने बचाव में गोली चलानी पड़ी इसमें चार लोगों की मृत्यु हुई है.'

उन्होंने बोला कि 'उसी बूथ पर गुंडों द्वारा आनंद बर्मन की हत्या की गई. इसलिए हत्या की गई कि वहां मतदान न हो. सुरक्षा बलों के हथियार लूटने की कोशिश हई, लेकिन ममता दीदी सिर्फ 4 लोगों को श्रद्धांजलि देती हैं आनंद बर्मन को श्रद्धांजलि नहीं देती हैं.'

तुष्टिकरण और वोट बैंक की राजनीति

शाह ने कहा कि 'मृत्यु में भी तुष्टिकरण और वोट बैंक की राजनीति से पता चलता है कि बंगाल की राजनीति को ममता दीदी ने कितना नीचे गिराया है इसका ये एक उदाहरण है. उसी सीट पर ममता दीदी ने कुछ दिन पहले भाषण दिया था कि केंद्रीय सुरक्षा बल के जवान आये तो उन्हें घेर लो. मैं ममता दीदी से पूछना चाहता हूं कि क्या आपका भाषण उन 4 लोगों की मौत का जिम्मेदार नहीं है?'

उन्होंने अपील करते हुए कहा कि 'बंगाल की जनता से मेरा करबद्ध निवेदन है कि बाकी के मतदान चरणों में शांतिपूर्ण ढंग से लोकतंत्र के उत्सव को मनाएं, मतदान करें, अपने पसंदीदा प्रत्याशी को जिताएं. बंगाल में शांतिपूर्ण चुनाव का एक नया इतिहास रचने का काम करें.'

अमित शाह ने बोला कि 'मैं बंगाल की जनता से वादा करता हूं कि 2 मई के बाद जब बंगाल में मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा सरकार बनेगी, ये चुनावी हिंसा, राजनीतिक हिंसा हमेशा के लिए बंगाल को छोड़कर चली जाएगी.'

इसे भी पढ़ें- कूचबिहार हिंसा को दीदी ने बताया नरसंहार, चुनाव आयोग ने बदला 'प्रचार का नियम'

इसके साथ ही पश्चिम बंगाल में गृह मंत्री अमित शाह ने 3 रोड शो के साथ 3 जनसभाएं की. उन्होंने बशीरहाट दक्षिण में जनसभा को संबोधित किया और कहा कि दीदी ने बंगाल की संस्कृति को तुष्टिकरण व वोटबैंक की राजनीति की भेंट चढ़ा दिया है. बंगाल की जनता दीदी का सूपड़ा साफ करने का मन बना चुकी है.

इसे भी पढ़ें- PM Modi ने कूचबिहार में लोगों की मौत पर जताया दुख, कहा- दीदी को जाना ही होगा

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़