नाइजीरियन ठग का हुआ खुलासा, राजस्थान SOG ने पकड़ा आरोपी को

नाइजीरिया से 2015 में मेडिकल वीजा लेकर भारत आकर लोगों को ठगने वाले आरोपी को पकड़ लिया गया है. लोगों को ठगने के बाद नाइजीरिया भागने की फिराक में आरोपी था.  

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 31, 2019, 04:30 PM IST
    • नाइजीरिया का रहने वाला है आरोपी , करता था लाखों की ठगी
    • मुबंई इंटरनेशनल एयरर्पोट से किया गया गिरफ्तार
नाइजीरियन ठग का हुआ खुलासा, राजस्थान SOG ने पकड़ा आरोपी को

जयपुर: राजधानी में ऑनलाइन व साइबर ठगी की वारदातों को अंजाम देने वाला शातिर नाइजीरियन ठग राजस्थान SOG  के हत्थे चढ़ गया है. राजस्थान एसओजी ने साइबर ठगी की वारदातों का पर्दाफाश कर शातिर नाइजीरिय ठग को गिरफ्तार किया है. इस अंतरराष्ट्रीय ठग से इलैक्ट्रॉनिक गैजेट्स भी बरामद किए हैं. 

आरोपी ऐसे देता था ठगी को अंजाम

आरोपी राजधानी में रोजाना एटीएम और डेबिट कार्ड या इंश्योरेंस के अलावा ऑनलाइन सेल परचेज साइट के जरिए भी ठगी की वारदातों को अंजाम देता था. ठगी के कई मामले सामने आने के बाद जयपुर पुलिस कमिश्नरेट की क्राइम ब्रांच और साइबर थाना पुलिस सर्तक हुई है. वहीं पुलिस कमिश्नरेट के विशेष अपराध व साइबर थाना पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए शातिर ठग रितेश कुमार से पूछताछ में इस गिरोह के बारे में एसओजी को जानकारी मिली थी. इसके अलावा जवाहरात एक्सपोर्ट व्यवसायी का बिजनेस ईमेल हैक कर ईलाज के बहाने करीब 8 लाख रूपए की ठगी करने का मामला भी सामने आया था. मामले की जांच के दौरान एसओजी टीम ने इस गिरोह के बारे में सूचना जुटाते हुए मुम्बई इंटरनेशनल एयरपोर्ट से नाइजीरिया निवासी एरिक चुकवुडी ओकाफोर को गिरफ्तार कर लिया है.

दिल्ली एम्स के दो डॉक्टर हुए लापता,लिंक पर क्लिक कर जानें खबर.

मुबंई इंटरनेशनल एयरर्पोट से किया गया गिरफ्तार

4 जनवरी को आरोपी की शादी होने जा रही थी जिसके लिए वह भारत से वापस लौटने की तैयारी कर चुका था लेकिन राजस्थान पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगीं. आरोपी को वापस नाइजीरिया लौटने से पहले गिरफ्तार कर लिया गया है. बता दें कि प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि ठगी की रकम कमीशन के आधार पर लिए गए बैंक खातों में जमा की गई थी. वहीं इस गिरोह में अन्य देशों में बैठे साइबर ठगों की मिलीभगत भी सामने आई है, जिसकी एसओजी टीम जांच कर रही है. माना जा रहा है कि अंतरराष्ट्रीय ठग से पूछताछ के बाद राजधानी समेत देश के अन्य इलाकों में में हुई साइबर ठगी की कुछ और वारदातों का खुलासा हो सकता है.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़