close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'गाय का नहीं, कुत्ते का मांस खाओ'

गाय पर पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष का अजीबो-गरीब बयान सामने आया है. दिलीप घोष ने विदेशी गाय को आंटी, तो देशी गाय के दूध में सोना बताया है. उन्होंने गाय का मांस खाने वालों को दी कुत्ते का मांस खाने की नसीहत दी है.

'गाय का नहीं, कुत्ते का मांस खाओ'

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल में एक बार फिर गाय और गाय पर सियासत गर्माने लगी है. पश्चिम बंगाल बीजेपी के अध्यक्ष और लोकसभा सांसद दिलीप घोष ने गाय और गाय का मांस का जिक्र करते हुए अजीबोगरीब बयान दे दिया. बर्दवान में एक कार्यक्रम के दौरान दिलीप घोष ने कहा कि हमारे देश की गायों के दूध में सोना होता है, जबकि विदेशी नस्ल की गायें हमारी गोमाता नहीं, बल्कि आंटी हैं.

कुत्ते का मांस खाने की सलाह

उन्होंने देसी गाय के दूध के गुण भी जमकर गिनाए. इस दौरान बीजेपी सांसद गाय का मांस खाने वालों पर जमकर बरसे. दिलीप घोष ने गाय का मांस खाने को अपराध बताते हुए गाय का मांस खाने वालों को कुत्ते का मांस खाने की सलाह दी.

पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि 'हमारे शिक्षित वर्ग के लोग कोलकाता की सड़क पर खड़े हो कर गाय का मांस खाते है, मैं तो कहता हूं की कुत्ते का मांस भी खाओ सेहत अच्छी रहेगी. किसी भी जानवर का खाना है तो खाओ लेकिन सड़क पर खड़े होकर क्यों खाते हो? अपने घर में खाओ न.'

'गाय माता के साथ दुर्व्यहवार किया तो'

गाय को लेकर भाजपा सांसद और प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष यहीं नहीं रुके. उन्होंने एक ओर जहां लोगों को देसी गायें पालने की सलाह दी. साथ ही धमकी भरे अंदाज में कहा कि अगर किसी ने गोमाता से दुर्व्यहार किया तो उसे कड़ा सबक सिखाया जाएगा.

घोष ने कहा कि 'जिस गाय को हम मां बोलते है, मां का दूध छोड़ने के बाद हम गाय का दूध पीकर जिंदा रहते है, जिस छोटे बच्चे की मां मर जाती है वो भी गाय का दूध पी कर जिंदा रहता है. तो हम भी उसे मां ही कहेंगे, वही सम्मान देंगे और अगर कोई मेरी मां के प्रति गलत करता है तो हम इसको कैसे देखेंगे? इन लोगों को भी इसी नजर से देखना चाहिए, भारत की पवित्र मिट्टी में गाय का अपमान करना, गौ हत्या और उसका मांस खाना भी महाअपराध है और ऐसे लोगो को हम समाज विरोधी की नजर से ही देखेंगे.'

इसे भी पढ़ें: कहां है इनका मानवाधिकार? ममता के गढ़ में परिवार सहित आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या

2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने पश्चिम बंगाल में शानदार प्रदर्शन किया था. ऐसे में बीजेपी की नजरें अब राज्य के विधानसभा चुनावों पर है. लोकसभा चुनाव में जहां ममता बनर्जी की सत्ता को हिलाने के लिए बीजेपी ने जयश्रीराम के नारे का सहारा था तो अब भाजपा की नजरें गाय के मुद्दे पर है. दिलीप घोष का ताजा बयान राज्य की सियासत में गाय और गाय का मांस के मुद्दे को हवा देने की कोशिश माना जा रहा है. अब देखना ये है कि बीजेपी के इस नए सियासी हथियार से पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और उनकी पार्टी टीएमसी कैसे सामना करती है.