दिल्ली चुनावः डाल-डाल मोदी, पात-पात केजरी

केंद्र की ओर से अवैध कॉलोनियों को नियमित करने का बिल पास करने के बाद अब सीएम केजरीवाल ने मंगलवार को हाउसिंग योजना की घोषणा की. इस योजना का नाम 'मुख्यमंत्री आवास योजना' रखा गया है. सरकार का कहना है कि इसके तहत इन परिवारों को पक्का घर मुहैया कराया जाएगा. 

दिल्ली चुनावः डाल-डाल मोदी, पात-पात केजरी

नई दिल्लीः दिल्ली में भाजपा और आप के बीच चुनावी जंग कुछ इस तरह चल रही है कि दोनों एक-दूसरे को तू डाल-डाल मैं पात-पात कर रहे हैं. केंद्र की ओर से अवैध कॉलोनियों को नियमित करने का बिल पास करने के बाद अब सीएम केजरीवाल ने मंगलवार को हाउसिंग योजना की घोषणा की. इस योजना का नाम 'मुख्यमंत्री आवास योजना' रखा गया है. सरकार का कहना है कि इसके तहत इन परिवारों को पक्का घर मुहैया कराया जाएगा. दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने राजधानी में झुग्गी झोपड़ियों में रहने वाले लोगों के लिए मंगलवार को हाउसिंग योजना की घोषणा की. 

इस दौरान 65,000 झुग्गी परिवारों को सर्टिफिकेट दिया गया है. सीएम केजरीवाल ने इस संबंध में ट्वीट किया, 'आज 65,000 झुग्गी परिवारों को सर्टिफिकेट दिया गया. बाकी सर्वे चल रहा है. झुग्गी के पड़ोस में पक्का मकान बनाकर दिया जाएगा और तब तक उनकी झुग्गी को तोड़ा नहीं जाएगा. दिल्ली के हर नागरिक के लिए इज्जत की जिंदगी मिल सके इसलिए हम हर प्रयास कर रहे हैं. 

आप सरकार ने आज ही अपने पांच साल के कार्य काल का रिपोर्ट कार्ड पेश किया जिसमें इसने बताया है कि बेहतर शिक्षा और मुफ्त इलाज इसकी बड़ी उपलब्धियों में शामिल रही है. अगले कुछ दिनों में किसी भी वक्त दिल्ली विधानसभा चुनाव के तारीखों की घोषणा हो सकती है और उस दौरान आचार संहिता लागू रहेगी जिस दौरान सरकार किसी योजना की घोषणा नहीं कर सकती.

धन्यवाद रैली में पीएम ने आप सरकार को घेरा था
दिन था रविवार, जगह थी दिल्ली का रामलीला मैदान, जो हर बार चुनावी लीला की जमीन बनता है. आज भी मजमा वहीं लगा था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद देने के लिए धन्यवाद रैली की गई थी. मंच पर प्रधानमंत्री पहुंचे और फिर अपनी शैली में भाषण की शुरुआत की. एक-एक मुद्दे आते गए और विरोधी दल जमीन पर पड़ते गए. जनता खुश होती गई. बात आई कच्ची कॉलोनियों को पक्का करने की तो पीएम ने इशारों में ही आम आदमी पार्टी को खूब घेरा और कांग्रेस को भी नहीं बख्शा. कॉलोनियों को मंजूरी नहीं मिलने को लेकर उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने दिल्ली के लोगों को इस अधिकार से दूर रखा वे देख सकते हैं कि अधिकार मिलने पर क्या खुशी होती है.

IMF ने बताया बुरे दौर में है भारतीय अर्थव्यवस्था, सरकार उठाए ठोस कदम

तब केजरीवाल ने ट्वीट कर दिया था जवाब
प्रधानमंत्री के बोलने के बाद इशारा जहां था, तीर वहीं जाकर भेद गया. जरा सी देर बाद आप मुखिया और दिल्ली के सीएम केजरी वाल का ट्वीट भी आ गया. सीएम ने ट्विटर पर लिखा, 'रजिस्ट्री का क्या हुआ? कच्ची कॉलोनियों के साथ फिर धोखा? लोगों को उम्मीद थी आज रजिस्ट्री शुरू हो जाएगी. लेकिन फिर धोखा? पहले कांग्रेस झूठे वादे करती थी, अब भाजपा ने भी वही किया पर चिंता मत करना. हमने कच्ची कालोनियों में सभी विकास के काम करवाए, अब इनसे रजिस्ट्री भी करवा के देंगे.