मेरठ SP के बयान का डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने किया समर्थन

मेरठ के एसपी सिटी अखिलेश नारायण को 20 दिसंबर को नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और प्रस्तावित राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान स्थानीय निवासियों से 'पाकिस्तान चले जाओ’ कहते सुना जा रहा है. इसका समर्थन उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने किया है.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 29, 2019, 05:34 PM IST
    • मौर्य बोले- कुछ भी विवादित नहीं
    • तनावपूर्ण माहौल के कारण निकल गये ये शब्द
    • मायावती ने एसपी सिटी को बर्खास्त करने की मांग की
मेरठ SP के बयान का डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने किया समर्थन

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने मेरठ एसपी सिटी अखिलेश नारायण के वायरल वीडियो में पाकिस्तान चले जाओ वाले बयान पर कहा कि उन्होंने ऐसा सभी मुसलमानों के लिए नहीं कहा, लेकिन शायद उन लोगों के लिए कहा जो पत्थरबाजी करते हुए पाकिस्तान समर्थक नारे लगा रहे थे. ऐसी गतिविधियों में शामिल किसी भी व्यक्ति के लिए एसपी सिटी का बयान गलत नहीं है.

मौर्य बोले- कुछ भी विवादित नहीं

एसपी सिटी अखिलेश नारायण के वायरल वीडियो पर उपमुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी मंशा किसी मुसलमान को पाकिस्तान भेजने की नहीं थी. वहां पर पाकिस्तान जिन्दाबाद के नारे लग रहे थे, इसका विरोध करते हुए उन्होंने उक्त बातें कहीं थी.

तनावपूर्ण माहौल के कारण निकल गये ये शब्द

इस मामले पर एडीजी प्रशांत कुमार ने कहा कि उस समय माहौल बहुत तनावपूर्ण था, जिसके चलते ऐसे शब्द निकल गए होंगे. उस दिन माहौल काफी तनावपूर्ण था. चारों तरफ से पत्थर फेंके जा रहे थे। देश विरोधी नारे लगाए जा रहे थे. पीएफआई की तरफ से पर्चे बांटे गए थे. यह तब हुआ जबकि सभी धार्मिक गुरुओं से शांति की अपील की गई थी.

मायावती ने एसपी सिटी को बर्खास्त करने की मांग की

बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती ने मेरठ एसपी सिटी अखिलेश नारायण के वायरल वीडियो को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है, साथ ही मेरठ एसपी सिटी को उन्होंने बर्खास्त करने की भी मांग की है. मायावती ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, ' उत्तर प्रदेश सहित पूरे देश में सालों से मुसलमान रह रहे हैं. वो भारतीय हैं ना कि पाकिस्तानी. सीएए,एनआरसी के विरोध-प्रदर्शन के दौरान खासकर उत्तर प्रदेश के मेरठ एसपी सिटी द्वारा उनके प्रति साम्प्रदायिक भाषा/टिप्पणी अति निन्दनीय और दुर्भाग्यपूर्ण है.'

ये भी पढ़ें- मेरठ SP के वायरल वीडियो पर विपक्ष ने शुरू की सियासत

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़