जानिये कौन हैं बबीता राजपूत जिनकी पीएम मोदी ने ‘मन की बात’ में की तारीफ

आपको बताते हैं कि ये बबीता राजपूत कौन हैं और पीएम मोदी ने उनकी सराहना क्यों की. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Feb 28, 2021, 05:50 PM IST
  • सूखी झील को अपने परिश्रम से किया जिंदा
  • खुद की मेहनत करके बनाई नहर
जानिये कौन हैं बबीता राजपूत जिनकी पीएम मोदी ने ‘मन की बात’ में की तारीफ

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फरवरी के आखिरी रविवार को मनकी बात कार्यक्रम को संबोधित किया. इसमें उन्होंने आत्मनिर्भर भारत से लेकर न्यू इंडिया तक के कई संकल्पों का जिक्र किया.

पीएम मोदी ने 74 वीं बार मन की बात कार्यक्रम को संबोधित किया. इसमें उन्होंने मध्यप्रदेश की रहने वाली बबीता राजपूत की तारीफ की. आपको बताते हैं कि ये बबीता राजपूत कौन हैं और पीएम मोदी ने उनकी सराहना क्यों की. 

सूखी झील को अपने परिश्रम से किया जिंदा

आपको बता दें कि बबीता कुमारी ने अपने परिश्रम से सूखी झील को जिंदा किया था. बबीता बुंदेलखंड के क्षेत्र की रहने वाली हैं और उनके गांव के आस पास पानी की बहुत समस्या है.

बबीता राजपूत ने गांवी की एक सूखी झील को अपनी मेहनत और अथक प्रयासों ने फिर से लबालब भर दिया. प्रधानमंत्री ने जल संरक्षण के क्षेत्र में अनुकरणीय पहल करने वाली बबीता राजपूत के इस कार्य की सराहना की. 

खुद की मेहनत से किया नहर का निर्माण

मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि बबीता राजपूत के गांव के पास की एक बहुत बड़ी झील थी जो सूख गई थी. उस झील के सूखने से उनके गांववालों को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता था. सबसे ज्यादा दिक्कत तो जानवरों को होती थी. उन्होंने गांव की ही दूसरी महिलाओं को साथ लिया और झील तक पानी से जाने के लिए एक नहर बना दी. इस नहर से बारिश का पानी सीधे झील में जाने लगा. अब ये झील पानी से भरी रहती है. 

ये भी पढ़ें- 28 फरवरी: 2015 विश्वकप में आज के ही दिन ऑस्ट्रेलिया हारा था इकलौता मैच

आत्मनिर्भरता की अनूठी मिसाल

हर छोटी बड़ी बात पर दूसरों को जिम्मेदार ठहराने वाले लोग बबीता राजपूत की जिंदगी से प्रेरणा ले सकते हैं. उन्होंने आत्मनिर्भर भारत अभियान को भी सशक्त किया. वैसे तो सूखे तावाब और झीलों का नवसृजन करने की जिम्मेदारी राज्य सरकार और ग्राम पंचायतों की होती है लेकिन उन्होंने खुद सूखी झील को पानी से भरने के लिये मेहनत की.

पीएम मोदी ने कहा कि जल संरक्षण सिर्फ सरकार की नहीं बल्कि सामूहिक जिम्मेदारी है और इसे देश के नागरिकों को समझना होगा. उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश के अगरौठा गांव की बबीता राजपूत भी जो कर रही हैं, उससे आप सभी को प्रेरणा मिलेगी. 

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़