अहमदाबाद में दंगाइयों की ना'पाक' करतूत! पुलिसवालों को जान से मारने की कोशिश

नागरिकता संशोधन कानून की आड़ में देश को दहलाने की साजिश दिन पर दिन तूल पकड़ती जा रही है. उपद्रवियों का उत्पात चरम पर है. गुजरात के अहमदाबाद में दंगाइयों ने पुलिसवालों पर हमला कर दिया और उनकी बुरी तरह पिटाई की.

अहमदाबाद में दंगाइयों की ना'पाक' करतूत! पुलिसवालों को जान से मारने की कोशिश

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में देश भर में प्रदर्शन हो रहे हैं. लेकिन गुजरात से विरोध प्रदर्शन से ऐसी तस्वीरें सामने आई हैं.जिन्हें देखकर यकीनन प्रदर्शन ने नाम पर दंगा करने वालों के खिलाफ नाराजगी और गुस्सा दोनों बढ़ जाएगा. क्योंकि दंगाइयों पर कड़ी कार्रवाई के खिलाफ मानवाधिकारों की बात करने वाले पुलिस के साथ दंगाइयों के सुलूक पर खामोश हैं.

पुलिसवालों को जान से मारने की कोशिश

अहमदाबाद में पुलिसवालों को जान से मारने की कोशिश की गई. एक जगह पर बस से भागते वक्त गिरे पुलिसवाले को पीटा गया. पुलिस वालों पर उपद्रवियों ने जमकर पत्थर बरसाए. यहां भीड़ में फंसे पुलिस वालों पर बड़ी संख्या में मौजूद उपद्रवी पत्थर फेंकने लगे.

पुलिस वाले एक कोने में जाकर फंस गए, जिसके बाद ​दंगाइयों ने उन पर पत्थरबाजी शुरु कर दी. कुछ पुलिस वालों ने पत्थरों को रोकने के लिए प्रोटेक्शन का सहारा ​लिया. तो कुछ पुलिस वाले अपना सिर बचाकर खड़े हो गए. और प्रदर्शनकारियों के पत्थर खाते रहे.

पुलिसवालों की बुरी तरह से पिटाई

अहमदाबाद से ही एक और वीडियो सामने आया है. जिसमें पुलिस के वाहन सड़क पर उपद्रवियों से बचकर भागते नजर आ रहे हैं. इस वीडियो में सबसे पहले एक बस नजर आती है, जिसपर उपद्रवी पत्थर फेंक रहे हैं. इस बस के पीछे ही कुछ पुलिस वाले और पुलिस के वाहन भागते नजर आते हैं. इस दौरान एक पुलिस वाला भागते हुए फिसल जाता है. जिसके बाद वहां पर मौजूद दंगाई इस पुलिस वाले की बुरी तरह से पिटाई शुरू कर देते हैं. किसी ने हाथ पैर से मारा, किसी ने पत्थर से तो​ किसी ने डंडों से इस पुलिस वाले की बुरी तरह पिटाई की.

अब पुलिस हमला करने वाले उपद्रवियों को सीसीटीवी फुटेज के जरिए तलाश कर रही है. कुछ उपद्रवियों को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया है.

इसे भी पढ़ें: खबरदारः विरोध के बीच सिमी और इंडियन मुजाहिदीन के आतंकी भी शामिल हैं!

अहमदाबाद के शाह आलम इलाके में सबसे ज्यादा हिंसा हुई. इस हिंसा में DCP और ACP स्तर के अधिकारियों के साथ साथ 19 पुलिस वाले घायल हुए हैं. अस्पताल में जख्मी होकर पहुंचने वाले पुलिस वालों में महिला पुलिस कांस्टेबल भी शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें: नागरिकता कानूनः अलर्ट पर दिल्ली पुलिस, जवानों की छुट्टियां रद्द