नागरिकता कानून की आड़ में नफरत फैलाने वालों को लगने लगी मिर्ची

देश के कई हिस्सों में नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में लोग सड़कों पर तिरंगा लेकर निकल रहे हैं. जो नागरिकता कानून के खिलाफ भ्रम और अफवाह फैलाने वालों के लिए ये कड़ा संदेश है. लोग CAA और NRC के समर्थन में सड़कों पर उतर रहे हैं.

नागरिकता कानून की आड़ में नफरत फैलाने वालों को लगने लगी मिर्ची

नई दिल्ली: नागरिकता कानून को लेकर विरोधियों का शोर अब धीमे पड़ने लगा है. क्योंकि इस कानून के समर्थन में देशप्रेमियों की आवाज बुलंद हो चली है. देश के कोने-कोने से ऐसी ही तस्वीरें अब दिखाई पड़ रही हैं. जनता से लेकर सामाजिक संगठन और सरकार सड़कों पर है.

नफरत फैलाने वालों को लग रही है मिर्ची

सीएए को लेकर लोगों को जागरुक करने का काम किया जा रहा है, जिससे देश में नफरत फैलाकर सियासत करने वालों को मिर्ची लगनी तय है. कोई हाथ में तिरंगा थामे है, तो कोई हाथों में CAA कानून से लिखी बैनर और तख्तियां लिया है. विरोध का सर्वनाश करने के लिए लोग सड़कों पर उतर रहे हैं.

वडोदरा

गुजरात के वडोदरा शहर में नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में वडोदरा नागरिक समिति की ओर से रैली निकाली गई. पोलो ग्राउंड से निकाली गई भव्य रैली में हजारों की संख्या में लोग शामिल हुए. गाजे-बाजे और देशभक्ति गानों पर झूमते हुए लोग हाथों में तिरंगा लहराते हुए नजर आए.

इस प्रदर्शन में CAA के समर्थन करने वाले लोगों ने 330 फीट लंबा तिरंगा लेकर रैली निकाली और वंदे मातरम, भारत माता की जय के नारे भी लगाए गए. रैली में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष जीतू वाघानी के अलावा सांसद रंजन भट्ट और मेयर डॉ. जिगिशा सेठ भी रैली में शामिल हुए. और सीएए का पुरजोर तरीके से समर्थन किया.

नवसारी

गुजरात के नवसारी में भी कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला. यहां भी नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में लोग सड़कों पर उतरे और रैली का आयोजन किया. नागरिक समिति के साथ-साथ बीजेपी कार्यकर्ता भी इस रैली में शामिल हुई.

पाटण

गुजरात के पाटण में भी हाथों में तिरंगा और भगवा झंडे लेकर लोगों का हूजूम पूरे जोश के साथ नागरिकता कानून का समर्थन करते दिखाई दिया. और CAA को लेकर भ्रम फैलाने वाले लोगों को कड़ा संदेश दिया. शहर के विभिन्न संगठनों, व्यापारियों ने इस रैली का आयोजन किया था. जिसमें भाजपा के स्थानीय नेताओं ने भी हिस्सा लिया.

मेहसाणा

गुजरात के मेहसाणा में भी मंगलवार को सीएए और NRC को लेकर जनसमर्थन रैली का आयोजन किया गया. एक तरफ जहां इस रैली में बड़ी संख्या में लोग पहुंचे तो वहीं गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल भी शामिल हुए. इसके अलावा पूर्व गृहमंत्री रजनी पटेल समेत तमाम बीजेपी नेता के अलावा तमाम धार्मिक और सामाजिक संस्था से जुड़े लोगों ने भी इस रैली का बल बढ़ाया.

सूरत

सूरत में CAA के समर्थन में विशाल रैली का आयोजन किया गया. इस रैली में 3000 से भी ज्यादा लोगों ने हिस्सा लिया. इस रैली की खास बात ये रही कि यहां हिन्दू समाज के लोगों के साथ-साथ भाईचारे का संदेश देने के लिए मुस्लिम समाज के लोगों ने भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया और तिरंगे के साथ मानव श्रंखला बनाकर पूरे शहर में घूमे. रैली में हिंदू हो या फिर चाहे मुसलमान हर कोई समर्थन में नारे लगाते दिखाई दिया.

इसे भी पढ़ें: क्या सचमुच ममता जबतक जिंदा हैं, तबतक पश्चिम बंगाल में नहीं लागू होगी NRC?

पिछले दिनों देश की राजधानी दिल्ली से लेकर यूपी और दूसरे तमाम शहरों में नागरिकता कानून को लेकर जिस तरह से अफवाह फैलाकर विरोध प्रदर्शन किए गए और लोगों ने जमकर उत्पात मचाया. उसके बाद भाजपा जागरुकता अभियान के जरिए इस कानून के बारे में फैलाए गए भ्रम को दूर करने की कोशिश कर रही है. जिसमें सामाजिक संगठन भी सरकार के इस काम में पूरा साथ दे रहे हैं.

इसे भी पढ़ें: दोहाः CAA का समर्थन किया तो डॉक्टर को छोड़नी पड़ी नौकरी