UP Panchayat Election: कोरोना की मार के बीच उत्तर प्रदेश में आज से हुआ पंचायत चुनाव का आगाज

कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच आज से ही उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव शुरू हो गए हैं. ऐसे में गांव में सरकार बनाने के लिए मतदान गुरुवार सुबह 7 बजे से शुरू हो गए हैं.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Apr 15, 2021, 09:35 AM IST
  • उत्तर प्रदेश में आज से शुरू हुई पंचायत चुनाव के लिए वोटिंग
  • कोरोना वायरस के प्रोटोकॉल का रखा जा रहा है पूरा ध्यान
UP Panchayat Election: कोरोना की मार के बीच उत्तर प्रदेश में आज से हुआ पंचायत चुनाव का आगाज

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Corona Virus) का कहर पूरे देश में उफान मार रहा है. इसी बीच अब 15 अप्रैल, गुरुवार से उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में भी पंचायत चुनाव शुरू हो चुके हैं. यूपी में भी कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. ऐसे में गांव में सरकार बनाने के लिए मतदान गुरुवार सुबह 7 बजे से शुरू हो गए हैं. सुबह से ही मतदान केंद्रों पर भारी भीड़ उमड़ने लगी है. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए लोग अपने मताधिकार का प्रयोग करते देखे गए.

PPE किट पहनकर वोट डालने की अनुमति

कोरोना संक्रमित लोगों को PPE किट पहनकर वोट डालने की अनुमति दी गई है. 18 जिलों में जिला पंचायत सदस्य के 779, क्षेत्र पंचायत के 19,313 व ग्राम प्रधान के 14,789 पदों के चयन के लिए लोग सुबह 7 बजे से ही मतदान केंद्र पहुंच रहे हैं. 51176 मतदान केंद्रों पर 3,16,46,162 मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे. चुनाव में 2,99,012 उम्मीदवारों का भाग्य मतपेटियों में बंद होगा.

कोरोना प्रोटोकॉल फॉलो करने का दावा

राज्य निर्वाचन आयोग ने मतदान के दौरान सुरक्षा और कोरोना वायरस प्रोटोकॉल के पालन का दावा किया है. 18 जिला पंचायतों के 779 वार्डो में 11,749, क्षेत्र पंचायत के 19313 वार्डो में 71,418 उम्मीवादर चुनाव लड़ रहे हैं.

14,789 ग्राम पंचायतों में प्रधान पद के लिए 108562 और ग्राम पंचायतों के 186583 वार्डो में 107283 उम्मीदवारों के बीच मुकाबला होगा.

सुरक्षा का पूरा इंतजाम

चुनाव के दौरान कानून एवं शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए 468 जोनल मजिस्ट्रेट, 2976 सेक्टर मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैं. जिला पंचायत सदस्य चुनाव के लिए 18 रिटर्निग अधिकारी, 78 सहायक रिटर्निग अधिकारी, क्षेत्र पंचायत सदस्य चुनाव के लिए 212 रिटर्निग अधिकारी, ग्राम पंचायत प्रधान चुनाव के लिए 212 रिटर्निग अधिकारी और ग्राम पंचायत सदस्य चुनाव के लिए 2372 सहायक रिटर्निग अधिकारी नियुक्त किए गए हैं.

संवेदनशील माने जा रहे हैं ये राज्य

अयोध्या, आगरा, कानपुर नगर, गाजियाबाद, गोरखपुर, जौनपुर, झांसी, प्रयागराज, बरेली, भदोही, महोबा, रामपुर, रायबरेली, श्रावस्ती, संतकबीर नगर, सहानपुर, हरदोई और हाथरस में मतदान हो रहा है. सुरक्षा की दृष्टि से झांसी, सहारनपुर, कानपुर, हरदोई, गाजियाबाद और गोरखपुर को संवेदनशील माना जा रहा है.

6-6 फीट की दूरी जरूरी

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए मतदान केंद्रों पर कोविड प्रोटोकाल का सख्ती से पालन कराया जाएगा. मतदान केंद्र के बाहर 6-6 फीट की दूरी पर घेरे बनाने के आदेश हैं, ताकि मतदाता सुरक्षित शारीरिक दूरी का पालन कर सकें. मतदान कर्मियों व सुरक्षा कर्मियों के लिए भी बचाव उपायों का पालन कराया जा रहा है.

बुधवार को थी अफवाह

कोरोना संक्रमण के कारण पंचायत चुनाव स्थगित करने की अफवाहें बुधवार को दिनभर गर्म रहीं. सोशल मीडिया पर चुनाव स्थगित करने को लेकर तरह-तरह की अफवाहें चलती रहीं. शाम को पंचायतीराज विभाग के अपर मुख्य सचिव मनोज कुमार सिंह ने सभी चर्चाओं को फर्जी करार देते हुए कहा कि पंचायत चुनाव निर्धारित तिथियों पर ही कराए जाएंगे.

2 मई को होगी गिनती

पंचायत चुनावों को विधानसभा चुनाव 2022 का सेमीफाइनल माना जा रहा है. चार चरण में होने वाले मतदान में पहले चरण में गुरुवार को वोट डाले जा रहे हैं. दूसरे चरण में मतदान 19 अप्रैल को, तीसरे में 26 और चौथे में 29 अप्रैल को होगा. इसके बाद 2 मई को वोटों की गिनती होगी.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़