भारतीय नौसेना कर्मियों का सोशल मीडिया यूज करना हुआ बंद

भारतीय नौसेना ने जासूसी और हनी ट्रैप से बचने के लिए अपनी सुरक्षा को बढ़ा दिया है. सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए नौसेना कर्मियों के फेसबुक के प्रयोग पर प्रतिबंध लगा दिया गया है.  

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 30, 2019, 02:27 PM IST
    • फेसबुक, सोशल मीडिया हुआ बैन
    • 7 नौसेना को सूचना लीक करते पकड़ा गया
भारतीय नौसेना कर्मियों का सोशल मीडिया यूज करना हुआ बंद

नई दिल्ली: भारतीय नौसेना ने सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कड़े कदम उठाए हैं. जिसके तहत अब नौसेना कर्मी काम के दौरान किसी भी प्रकार से फेसबुक का उपयोग नहीं कर सकेंगे यानी की फेसबुक नौसेना कर्मियों के लिए प्रतिबंधित कर दी गई है. इसके अलावा नौसेना के ठिकानों, डॉकयार्ड और ऑन बोर्ड युद्धपोतों पर स्मार्ट फोन के उपयोग पर भी रोक लगा दी गई है. दरअसल बीते दिन नौसेना के सात कर्मियों पर सूचनाएं बाहर आउट करने की खबर आई थी जिसके बात सातों कर्मियों को गिरफ्तार कर लिया गया था. जिसके बाद नौसेना ने अपने कर्मियों से सोशल मीडिया से दूरी बनाए रखने की अपील करते हुए फरमान जारी कर दिया.

तलाक पीड़ित सभी महिलाओं को योगी सरकार देगी हर साल 6000 रुपये, लिंक पर क्लिक कर जानें खबर.

ये सात कर्मियों पर संगीन आरोप है कि इन्होंने सोशल मीडिया पर दुश्मन को खुफिया एजेंसियों को संवेदनशील सूचनाएं लीक करते पकड़ा गया था. इसके बाद नौसेना किसी भी प्रकार की ढिलाई नहीं रखना चाह रही है क्योंकि इस तरह की खबरों को लीक करने से देश की सुरक्षा में खतरा पैदा हो सकता है. गौरतलब है कि आंध्र प्रदेश पुलिस ने 20 दिसंबर को पाकिस्तानी संपर्क वाले एक जासूसी रैकेट का पर्दाफाश करने का दावा करते हुए भारतीय नौसेना के सात कर्मियों को इस सिलसिले में गिरफ्तार किया था. पुलिस की खुफिया शाखा ने केंद्रीय खुफिया एजेंसियों और नौसेना के खुफिया विभाग के साथ मिलकर ‘ऑपरेशन डॉल्फिन्स नोज’ चलाया और इस जासूसी रैकेट का पर्दाफाश किया है.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़