सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगने वाले केजरीवाल ने चीन विवाद पर कही ये बात

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पाकिस्तान में हुई सर्जिकल स्ट्राइक और बालाकोट में हुई एयर स्ट्राइक पर सवाल खड़े किए थे जिसे पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ अपने प्रोपेगेंडा में इस्तेमाल किया था. अब केजरीवाल ने चीन विवाद पर हो रही सियासत पर टिप्पणी की है.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Jun 22, 2020, 03:40 PM IST
    • भारत चीन विवाद पर कांग्रेस की राजनीति जारी
    • चीनी सेना भी उसी तरह खतरनाक है जिस तरह चीनी वायरस- केजरीवाल
सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगने वाले केजरीवाल ने चीन विवाद पर कही ये बात

नई दिल्ली: कोरोना वायरस पर पूरी दुनिया में हाहाकार मचा हुआ है. चीनी वायरस कोरोना भारत में भी कहर बरपा रहा है. इससे सबसे अधिक दिल्ली, महाराष्ट्र जैसे राज्य प्रभावित हैं. कोरोना से जूझ रही दिल्ली की स्थिति पर प्रेस कांफ्रेंस करने आये मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने चीन विवाद पर टिप्पणी की है. उन्होंने कहा कि देश इस समय चीनी वायरस और चीनी सेना से लड़ रहा है. 

चीनी सेना भी उसी तरह खतरनाक है जिस तरह चीनी वायरस. इस मुद्दे पर किसी भी राजनीतिक दल को सियासत नहीं करनी चाहिए. गौरतलब है दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सेना के शौर्य पर बहुत सवाल उठाते रहे हैं. उन्होंने सेना सबूत की भी मांग की थी.

भारत चीन विवाद पर कांग्रेस की राजनीति जारी

जब से गलवान घाटी में भारत और चीन के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई है तब से कांग्रेस के नेता ऐसी बयानबाजी कर रहे हैं जो भारत की कूटनीति और सेना के मनोबल को तोड़ती है. राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सरेंडर मोदी कहा था. इस विवादित टिप्पणी की केजरीवाल ने भी आलोचना की. 

ये भी पढ़ें- सीजफायर उल्लंघन: पाकिस्तान की LOC पर गोलीबारी, एक सैनिक शहीद

कांग्रेस अपने पूर्वजों की ऐतिहासिक गलती पर माफी मांगने के बजाय सेना पर सवाल खड़े कर रही है. सोनिया गांधी ने कहा था कि खुद मोदी जवाब दें कि भारत के 20 जवान कैसे शहीद हुए. वो ये भूल गयीं कि भारत के सैनिकों ने चीन के 45 से अधिक सैनिकों को ढेर कर दिया है.

दिल्ली में कोरोना की जानकारी दी

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बताया कि आज दिल्ली में लगभग 25,000 एक्टिव मामले हैं. उसमें से अस्पतालों में 6,000 और होम आइसोलेशन में 12,000 लोग हैं. अच्छी खबर ये है कि एक हफ्ते में बस 1,000 एक्टिव केस बढ़े हैं. उन्होंने कहा कि हमनें युद्धस्तर पर कोरोना के मरीजों के लिए बेड का इंतजाम किया है. दिल्ली में इस समय लगभग 7000 बेड खाली हैं. चिंता न करें, हम बेड की कमी बिल्कुल नहीं होने देंगे.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़