CSK vs Punjab Kings Preview: पंजाब किंग्स को पटखनी देकर पहली जीत दर्ज करना चाहेंगे धोनी के धुरंधर

आईपीएल के रण में आज पंजाब के किंग्स के सामने चेन्नई के सुपर किंग्स होंगे. पंजाब की टीम पहला मैच जीतकर चेन्नई के सामने आ रही है और चेन्नई अपना पहला मुकाबला दिल्ली से हार चुकी है. 

Written by - Adarsh Dixit | Last Updated : Apr 16, 2021, 04:32 PM IST
  • पहला मुकाबला जीत चुकी है पंजाब किंग्स
  • सीजन में जीत का आगाज करने उतरेंगे सुपरकिंग्स
CSK vs Punjab Kings Preview: पंजाब किंग्स को पटखनी देकर पहली जीत दर्ज करना चाहेंगे धोनी के धुरंधर

मुंबई: देश में कोरोना का कहर भले ही बढ़ता जा रहा हो और लोग अपना जीवन बचाने में लगे हों लेकिन आईपीएल के खुमार क्रिकेट के फैंस के ऊपर से कम नहीं हो रहा है. आईपीएल के रोमांच का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि रोजाना एक एक गेंद पर मैच पलट रहे हैं.

आईपीएल के रण में आज पंजाब के किंग्स के सामने चेन्नई के सुपर किंग्स होंगे. पंजाब की टीम पहला मैच जीतकर चेन्नई के सामने आ रही है और चेन्नई अपना पहला मुकाबला दिल्ली से हार चुकी है. पुराने रिकॉर्ड्स की भूमि पर केएल राहुल की पंजाब किंग्स, महेंद्र सिंह धोनी के सुपरकिंग्स से बहुत पीछे है. दोनों टीमों में अब तक 24 बार भिड़ंत हुई है और 15 बार चेन्नई सुपर किंग्स ने केएल राहुल के धुंरधरों को पटखनी दी है जबकि पंजाब के हाथ केवल 9 बार बाजी लगी.

पहला मुकाबला जीत चुकी है पंजाब किंग्स

पंजाब किंग्स ने इस सीजन में जैसे ही अपनी पुरानी जर्सी और नाम में बदलाव किया है तब से उसकी किस्मत भी बदल गई है. पिछले सीजन में कई बार जीती हुई बाजी हारने वाली प्रीती जिंटा की टीम ने इस साल बेहतरीन शुरुआत की है. 13वें संस्करण में करीबी मुकाबले हारने वाली पंजाब किंग्स ने पहले ही मैच में राजस्थान रॉयल्स को बेहद नजदीकी मुकाबले में शिकस्त देकर शानदार शुरुआत की. प्रीति जिंटा के रणबांकुरे जब चेन्नई के सामने होंगे तो उनका जोश और उनकी ताकत देखने वाली होगी.  

केएल राहुल के पास मैच विनर खिलाड़ियों की कोई कमी नहीं है. टीम में केएल राहुल, मयंक अग्रवाल, क्रिस गेल, दीपक हुड्डा और निकोलस पूरन जैसे धमाकेदार बल्लेबाज हैं जिनके पास हुनर और प्रतिभा की कमी नहीं है. साथ ही पंजाब के पास पिछले मैच के हीरो अर्शदीप सिंह और मोहम्मद शमी जैसे धारदार गेंदबाज हैं जिनमें बड़े से बड़े बल्लेबाज को धराशाई करने की ताकत है.  इन दोनों धुरंधर गेंदबाजों का साथ देने के लिये झाई रिचर्डसन, रिली मेरिडिथ, रवि बिश्नोई और मुरुगन अश्विन जैसे गेंदबाज हैं.

ये भी पढ़ें- सवा सोलह करोड़ के खिलाड़ी ने 18 गेंद में पलट दी बाजी, राजस्थान को दिलाई रोमांचक जीत

सीजन में जीत का आगाज करने उतरेंगे सुपरकिंग्स 

महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स पहला मुकाबला दिल्ली से बुरी तरह हारी है. धोनी की सेना की कोशिश होगी कि वो इस मैच को जीतकर टूर्नामेंट में विजय अभियान का श्री गणेश करें लेकिन चेन्नई की राह भी आसान नहीं है. चेन्नई सुपर किंग्स की सबसे बड़ी कमी ये है कि उसके बल्लेबाज अपनी अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में तब्दील नहीं कर सके. टीम के पास मजबूत सलामी जोड़ी की भी कमी है. पिछले सीजन में आखिरी की  3 पारियों में अर्धशतक जड़ने वाले रितुराज गायकवाड़ दिल्ली के खिलाफ फ्लॉप रहे. कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की भी खराब बल्लेबाजी टीम की हार का कारण बनती है. उनकी बैटिंग पर उम्र का असर भी दिखने लगा है.

फैंस को उम्मीद थी कि धोनी पिछले सीजन की खराब फॉर्म छोड़कर इस साल कुछ धमाल मचायेंगे लेकिन उनका बल्ला इस साल भी खामोश है. चेन्नई सुपर किंग्स को गेंदबाजी में भी पर्याप्त सुधार करने की जरूरत है. टीम के पास दीपक चाहर, सैम करन, शार्दुल ठाकुर, ड्वेन ब्रावो, मोईन अली और रवींद्र जडेजा जैसे गेंदबाज तो हैं लेकिन दिल्ली के खिलाफ इनकी जमकर पिटाई हुई थी. शार्दुल ने तो 3.4 ओवर में 53 रन दे डाले थे. हालांकि धोनी की कप्तानी में चेन्नई को गेंदबाजी में कुछ बदलाव करना होगा वरना आने वाले मैचों में टीम को दिक्कत हो सकती है.  

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़