ऑस्ट्रेलिया में दम दिखा चुके इस युवा खिलाड़ी ने घरेलू क्रिकेट में खेली धमाकेदार पारी

विजय हजारे ट्रॉफी सीमित ओवर का टूर्नामेंट है जिसमें प्रतिभावान खिलाड़ियों को अपनी क्षमताओं का प्रदर्शन करने का प्लेटफॉर्म मिलता है. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Mar 1, 2021, 05:59 PM IST
  • 6 चौकों और 6 छक्कों की मदद से बनाए 92 रन
  • टीम को संकट से निकाल कर दिलाई जीत
ऑस्ट्रेलिया में दम दिखा चुके इस युवा खिलाड़ी ने घरेलू क्रिकेट में खेली धमाकेदार पारी

मुंबई: देश में इस समय घरेलू क्रिकेट का सबसे बड़ा टूर्नामेंट खेला जा रहा है. इसमें कई युवा खिलाड़ी अपना जौहर दिखा रहे हैं. हर रोज कोई न कोई नया खिलाड़ी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करके सुर्खियां बटोरता है. विजय हजारे ट्रॉफी सीमित ओवर का टूर्नामेंट है जिसमें प्रतिभावान खिलाड़ियों को अपनी क्षमताओं का प्रदर्शन करने का प्लेटफॉर्म मिलता है. 

हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जौहर दिखाने वाले युवा गेंदबाज शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur) ने विजय हजारे ट्रॉफी में अपने बल्ले से धमाल मचाया. अब उन्होंने मुंबई की ओर से खेलते हुए हिमाचल प्रदेश के खिलाफ 92 रनों की धमाकेदार पारी खेली.  

6 चौकों और 6 छक्कों की मदद से बनाए 92 रन

शार्दुल ठाकुर गेंदबाजी के लिये प्रसिद्ध हैं. लेकिन पिछले कुछ समय से उनका बल्ला जिस तरह से आग उगल रहा है उससे उनकी गिनती ऑलराउंडर्स में होने लगी है. शार्दुल ठाकुर ने हिमाचल प्रदेश के खिलाफ 57 गेंदों का सामना करके धुआंधार 92 रन बनाए. इसमें उन्होंने 6 छक्के भी जड़े. करीब 162 के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी करते हुए ठाकुर ने अपनी पारी में 6 चौके भी लगाए. उनकी पारी किसी विश्वस्तरीय बल्लेबाज की तरह लग रही थी. 

ये भी पढ़ें- 2003 Cricket World Cup: 18 साल पहले इसी दिन सचिन-सहवाग ने छिड़का था पाकिस्तान के जख्मों पर नमक

टीम को संकट से निकाल कर दिलाई जीत

भारत के लिये 2 टेस्ट और 12 वनडे खेल चुके शार्दुल ठाकुर का इस मैच के पहले प्रथम श्रेणी का सबसे बड़ा स्कोर 40 रन का था. हिमाचल के खिलाफ जब वे बल्लेबाजी करने उतरे तो मुंबई की टीम नाजुक स्थिति में थी और स्कोर 5 विकेट पर 148 रन था. इसके बाद शार्दुल ने अपनी पारी से स्कोर 300 के पार पहुंचाया. उन्होंने पारी में 57 गेंद का सामना किया. 6 चौके और 6 छक्के की मदद से 92 रन बनाए. 

ये भी पढ़ें- भारतीय क्रिकेट को मिला नया मोहम्मद कैफ, इस धाकड़ खिलाड़ी का है भाई

ठाकुर की पारी की बदौलत मुंबई ने हिमाचल प्रदेश के सामने 322 रनों का पहाड़ जैसा लक्ष्य रखा. बाद में हिमाचल की टीम महज 121 रन पर ऑलआउट हो गई और 200 रन से मैच हार गई. 

ऑल्ट्रेलिया के खिलाफ भी भारत को दिलाई थी जीत

इसके पहले शार्दुल ठाकुर ने ब्रिस्बेन में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच में 69 रन बनाए थे और 7 विकेट झटके थे. भारत यह टेस्ट नजदीकी मुकाबले में 3 विकेट से जीता था. शार्दुल टीम इंडिया की ओर से 2 टेस्ट, 12 वनडे और 17 टी20 खेल चुके हैं. शार्दुल ठाकुर ने वाशिंगटन सुंदर के साथ मिलकर मैच जिताऊ साझेदारी की थी. इसी मैच के बाद से लोग उन्होंने ऑलराउंडर मानने लगे हैं और आज की पारी ने उनके ऑलराउंडर होने की पुष्टि कर दी. 

उल्लेखनीय है कि इंटरनेशनल करियर में उन्होंने 12 वनडे मैचों में 15 विकेट लिये हैं. 17 टी-20 इंटरनेशनल में शार्दुल के नाम 23 विकेट दर्ज हैं. टेस्ट में उन्होंने भारत के लिए 2 मैच में 7 विकेट हासिल किए हैं. 

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़