जानिए कौन हैं अंपायर वीरेंद्र शर्मा जो बन गए हैं कोहली की कुंडली के 'ग्रहण'

दरअसल एजाज पटेल की गेंद पर ऑन-फील्ड अंपायर द्वारा आउट दिए जाने के तुरंत बाद विराट कोहली ने डीआरएस का विकल्प चुना. 

Written by - Adarsh Dixit | Last Updated : Dec 3, 2021, 08:13 PM IST
  • थर्ड अंपायर की गलती से कोहली हो गए आउट
  • पहले भी गलत फैसले दे चुके हैं वीरेंद्र शर्मा

ट्रेंडिंग तस्वीरें

जानिए कौन हैं अंपायर वीरेंद्र शर्मा जो बन गए हैं कोहली की कुंडली के 'ग्रहण'

नई दिल्ली: न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में विराट कोहली खाता खोले बिना आउट हो गए. उन्हें एजाज पटेल की गेंद पर LBW आउट करार दिया गया.

बाद में पता चला कि कोहली आउट नहीं थे लेकिन थर्ड अपायर की गलती की वजह से उन्हें आउट दिया गया. 

थर्ड अंपायर की गलती से कोहली हो गए आउट

दरअसल एजाज पटेल की गेंद पर ऑन-फील्ड अंपायर द्वारा आउट दिए जाने के तुरंत बाद विराट कोहली ने डीआरएस का विकल्प चुना. थर्ड अंपायर वीरेंद्र शर्मा ने रिप्ले को अलग-अलग एंगल से देखा और ऐसा लगा कि गेंद बल्ले और पैड पर एक साथ लगी थी. 

चूंकि वीरेंद्र शर्मा के पास ऑन-फील्ड अंपायर के फैसले को पलटने का सबूत नहीं था, इसलिए कोहली को पवेलियन लौटना पड़ा.

हालांकि, फैन्स ट्विटर पर तस्वीरें और वीडियो शेयर कर रह हैं, जिससे पता चल रहा है कि गेंद पहले बल्ले पर लगी. वे वीरेंद्र शर्मा के विवादास्पद अंपायरिंग फैसले से नाराज हैं. इसके बाद से ही विरेंद्र शर्मा फैंस के निशाने पर आ गए. 

पहले भी गलत फैसले दे चुके हैं वीरेंद्र शर्मा

अंपायर वीरेंद्र शर्मा की अंपायरिंग पर पहले भी सवाल उठ चुके हैं. वीरेंद्र शर्मा ने एक बार इंग्लैंड के खिलाफ भी कोहली को गलत आउट दे दिया था. तब कोहली की कैच लेते समय फील्डर का पैर बाउंड्री को टच कर गया था. नियमों के मुताबिक कोहली को उस गेंद पर 6 रन मिलने चाहिए थे लेकिन अंपायर ने उन्हें आउट दे दिया था. 

आईपीएल में भी वीरेंद्र शर्मा खराब अंपायरिंग के चलते आलोचकों के निशाने पर आ चुके हैं. कोहली ने आईपीएल में गलत निर्णय देने पर उनकी शिकायत बीसीसीआई से की थी. 

जानिए कौन हैं अंपायर वीरेंद्र शर्मा

आपको बता दें कि वीरेंद्र शर्मा भारत के लिए 50 से ज्यादा प्रथम श्रेणी मैच खेल चुके हैं. वे जन्म हमीरपुर के पुरली गांव में हुआ था. उन्होंने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत हमीरपुर से बतौर अंडर-17 खिलाड़ी की थी. इसके बाद वह अंडर-19 टीम का हिस्सा बने. 

वीरेंद्र शर्मा साल 1990 हिमाचल प्रदेश की ओर से रणजी खेल चुके हैं और एक सीजन में टीम की कप्तानी भी की. साल 2006 तक के अपने करियर में उन्होंने 50 से अधिक प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेला. वीरेंद्र शर्मा बाए हांथ के बल्लेबाज थे और उन्होंने 1889 रन भी बनाए हैं. 

ये भी पढ़ें- जानिए कैसे पीएम मोदी से पिछड़कर भी धोनी से आगे निकल गए विराट कोहली

साल 2019 में आईसीसी अंपायर्स पैनल में चार भारतीय को जगह दी गई. इनमें वीरेंद्र शर्मा भी शामिल हैं. इनके अलावा शमशुद्दीन, अनिल चौधरी और नितिन मेनन को भी आईसीसी ने अपने पैनल में जगह दी है. 

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप. 

 

 

 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़