भगोड़े नीरव मोदी को अब भारत लाया जा सकेगा, ब्रिटिश सरकार ने प्रत्यर्पण की दी मंजूरी

ब्रिटिश हुकूमत ने भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी को भारत हवालगी करने की मंजूरी दे दी है. इससे कारोबारी नीरव मोदी को बड़ा झटका लगा है.  

भगोड़े नीरव मोदी को अब भारत लाया जा सकेगा, ब्रिटिश सरकार ने प्रत्यर्पण की दी मंजूरी
फाइल फोटो

लंदन: पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के अहम आरोपी और भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी को भारत लाने का रास्ता साफ हो गया है. फरवरी में लंदन की एक अदालत से नीरव की हवालगी की मंजूरी मिलने के बाद आज यूनाइटेड किंगडम (UK) के होम मिनिस्टर ने भी हवालगी की मंजूरी दे दी है. 

ब्रिटिश हुकूमत के इस फैसले को करीब 13 हजार करोड़ रुपये की माली धोखाधड़ी करके फरार हुए कारोबारी नीरव मोदी को भारत लाने की मुहिम की बड़ी कामयाबी के तौर पर देखा जा रहा है. मोदी पर अपने मामा मेहुल चोकसी के साथ मिलकर पंजाब नेशनल बैंक से धोखाधड़ी करने का आरोप है. 

ये भी पढ़ें:  Jammu & Kashmir: आतंकियों की तारीफ करने पर महिला SPO सस्पेंड, FIR के बाद उठाया गया ये कदम

गौरतलब है कि इससे पहले ब्रिटेन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने प्रत्यर्पण की याचिका मंजूर कर ली थी और इस मामले को स्वीकृति के लिए ब्रिटिश के गृह मंत्री को भेज दिया था.

ये भी पढ़ें:  Ramzan 2021: भारत का वह इलाका, जहां तोप के घन-गरज से होता है इफ्तार व सेहरी का आगाज़

बता दें कि भारत से फरार होने के बाद ही सरकार ने नीरव मोदी को प्रत्यर्पित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी थी. 19 मार्च, 2019 को  नीरव मोदी को गिरफ्तार कर लिया गया था, इसके बाद से वह वंड्सवर्थ जेल में बंद है, हालांकि इस दौरान उसने जमानत के लिए कई बार कोर्ट का दरवाजा खटखटाया, लेकिन उसे जमानत नहीं मिली. नीरव मोदी के पास अभी भी वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट के फैसले को हाई कोर्ट के सामने अपील करने का विकल्प मौजूद है.

Zee Salam Live TV: