बाबर आजम पर महिला के संगीन आरोप-10 साल तक बनाया हवस का शिकार, घर से ले गया था भगाकर

हामीजा ने बताया कि साल 2016 में मैं 20 हफ्तों की प्रग्नेंट हो गई थी और जब मैंने बाबर को बताया तो उसने कुछ ऐसा रवैया मेरे साथ किया जैसे मैंने कोई गुनाह कर लिया हो. यहां तक कि मुझे मारा पीटा भी और फिर वो मुझे बच्चा गिराने के लिए एक जगह ले गया

बाबर आजम पर महिला के संगीन आरोप-10 साल तक बनाया हवस का शिकार, घर से ले गया था भगाकर

नई दिल्ली: पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान बाबर आजम पर पाकिस्तान की एक महिला ने गंभीर आरोप लगाए हैं. महिला ने प्रेस कांफ्रेंस कर बाबर पर शारीरिक शोषण और मार-पीट के आरोप लगाए हैं. महिला ने बताया कि बाबर और उसके संबंद्ध आज से नहीं बल्कि जबसे हैं जब उनका क्रिकेट की दुनिया से कोई लेना देना नहीं था और वो एक गरीब घराने से संबंध रखता थे तब से वो एक दूसरे को जानते हैं. महिला ने बताया बाबर ने उसे 10 साल तक अपनी हवस का शिकार बनाया और अब वो शादी से साफ इनकार कर रहा है. महिला ने अपना नाम हामीजा बताया है.

एक ही मोहल्ले में रहते थे और अच्छे दोस्त थे
पीड़ित महिला ने बताया कि बाबर आजम और मैं एक ही मोहल्ले में रहते थे, वो मेरा स्कूल फेलो भी था. जिस वजह से हमारी बहुत अच्छी दोस्ती थी. साल 2010 में बाबर आजम ने मुझे मेरे घर पर आकर प्रपोज किया. जो मैंने कुबूल कर लिया था. महिला ने आगे बताया कि हम लोगों का शादी करने का भी प्लान भी था लेकिन हमारे परिवार वालों ने साफ इनकार कर दिया था. 

यह भी पढ़ें: NO डिनर, NO शूटिंगः विद्या बालन ने ठुकराई मंत्री संग खाने की पेशकश, अफसर ने रुकवा दी शूटिंग

मुझे मेरे घर से भगाकर ले गया
हामीजा ने आगे बताया कि परिवार के इनकार के बाद हम दोनों ने कोर्ट मैरिज का फैसला लिया और बाबर मुझे खुद मेरे घर से भगा ले गया. हम उस वक्त अलग-अलग जगहों पर किराये के मकान में रहते थे. महिला ने उन जगहों के नाम भी बताए जहां वो किराये पर रहते थे. महिला ने बताया कि मैंने बाबर को कई बार शादी के लिए कहा लेकिन वो बुरे हालात का बहाना बनाकर टाल दिया करता था. 

बाबर के सभी खर्चे मैंने उठाए
पीड़िता ने बताया कि हमारे हालात बुरे थे लेकिन मैंने काम करना शुरू कर दिया था. 2014 से पहले मैंने नौकरी के साथ-साथ सैलून बनाया और उससे होने वाली तमाम कमाई मैंने बाबर को दी. उसके क्रिकेट से लेकर रहना, खाना, कपड़े समेत तमाम खर्चे मैंने उठाए. महिला ने बताया जब साल 2014 में बाबर आजम क्रिकेट टीम में सलेक्शन हुआ तो उसके रवैये में बहुत बदलाव देखने को मिला. जो मुझे नजर आ रहा था लेकिन मेरे हालात इस तरह के थे के मैं अपने घर नहीं जा सकती थी. मैंने फिर से बाबर को शादी के लिए कहा लेकिन उसने फिर यह कह कर टाल दिया कि अभी हमारे हालात और अच्छे हो जाएं तब हम शादी करेंगे. 

देखें VIDEO: हुड़दंग से परेशान लोगों ने जान बचाने के लिए हाथी को लगाई आग

प्रेग्नेंट हुई तो मुझे मारा-पीटा
हामीजा ने बताया कि साल 2016 में मैं 20 हफ्तों की प्रग्नेंट हो गई थी और जब मैंने बाबर को बताया तो उसने कुछ ऐसा बरताव मेरे साथ किया जैसे मैंने कोई गुनाह कर लिया हो. यहां तक कि मुझे मारा पीटा भी और फिर वो मुझे बच्चा गिराने के लिए एक जगह ले गया. मैं बेबस थी जो उसकी इस बात के लिए मान गई. महिला ने आगे कहा कि बच्चा गिराने में उसके 2 दोस्तों और कज़िन ने भी मदद की थी. उन्होंने बताया कि उसका छोटा भाई सफीर आज़म अब्दुल कादिर के बेटे उसमान कादिर चश्मदीद गवाह भी है. 

ऐसे रिश्ते बनाए जिसकी इजाजत न कानून देता है और न ही इस्लाम
पीड़ित महिला ने बताया कि बच्चा गिराने के बाद बाबर ने मुझे मेरे परिवार से सुलह करने को कहा क्योंकि वो पाकिस्तान बहुत कम रहता था और मैं यहां अकेली रहती थी. जिसके बाद मैंने अपने परिवार से बाबर के कहने पर सुलह कर ली. उसके बाद बाबर की हवस इस कदर बढ़ती गई कि उसने मेरे साथ कुछ इस तरह रिश्ते बनाए, जिसकी इजाज़त न तो इस्लाम देता है और न ही हमारा कानून है. 

यह भी पढ़ें: सना खान ने कहा- कभी नहीं सोचा था कि ‘हलाल लव’ इतना खूबसूरत भी हो सकता है

अस्पतालों में पत्नी बनाकर पेश करता था
हामीजा ने बताया कि साल 2017 में उसने मुझे फिर से बहुत मारना पीटना शुरू किया और मेरे साथ रिश्ते बनाता रहता रहा. इतना ही नहीं वो मुझे कई बार अस्पतालों में भी अपनी पत्नी बताकर ले जाता रहा है और चैकअप करवाता रहा है. जिसके उन्होंने सुबूत भी मकामी मीडिया को दिखाए हैं. 

शादी से किया इनकार
पीड़िता ने बताया कि बाद साल 2017 में मैंने बाबर के खिलाफ पुलिस रिपोर्ट दर्ज कराई और वहां भी कुछ शर्तों पर सुलह हो गई जिसमें शादी का होना भी शामिल था लेकिन उसने बहुत जल्द ही अपना नंबर बदल लिया. दोनों नंबर मेरे पास हैं और मुझे वो कॉल मैसेज किया करता था. वक्त गुजरता गया और वो मुझे इसके बाद भी 3 साल तक अपनी हवस का शिकार बनाता रहा लेकिन अब उसने शादी से साफ इनकार कर दिया. यहां तक कि यह भी कह दिया कि तुम मेरा कुछ नहीं बिगाड़ सकती. 

यह भी पढ़ें: पहली 'हिजाब मॉडल' हलीमा ने इस्लाम के खातिर छोड़ी फैशन इंडस्ट्री, कोरोना को कहा शुक्रिया

जान से मारने की धमकी दी
हामीजा ने कहा जब मैंने ऐतारज किया तो बाबर ने कहा कि तुमने अगर किसी पुलिस स्टेशन में जाकर शिकायत की तो मैं तुम्हें जान से मार दूंगा और कहा कि तुम अंदाजा भी नहीं लगा सकती कि मैं तुम्हारे साथ क्या करूंगा. एक पत्रकार के सवाल के जवाब में महिला ने बताया कि पाकिस्तान में पीसीबी ने जहां भी बाबर को कमरा दिलाया तो उसके बराबर वाला कमरा मेरा होता था. 

पीसीबी ने बताया प्लेयर की पर्सन लाइफ
पत्रकारों के सवाल के जवाब देते हुए महिला ने बताया कि मैंने इसकी शिकायत पीसीबी से भी की, जहां से मुझे ये जवाब मिला कि यह प्लेयर पर्सनल लाइफ है. जिसे हम डिस्कस नहीं करना चाहते. महिला कानून को कोसते हुए कहा कि अगर हमारा कानून इतना मज़बूत हो तो मैं आप लोगों के सामने दलीलें न पेश करूं. 

यह भी पढ़ें: ओवैसी के गढ़ में बोले योगी- फैज़ाबाद अयोध्या हो सकता है तो हैदराबाद भाग्यनगर क्यों नहीं

Zee Salaam LIVE TV