close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रिपोर्ट का दावा, सेहत बचाने के लिए नहीं टैक्स बचाने के लिए लोग खरीदते हैं बीमा

सर्वेक्षण में शामिल लगभग 40 फीसदी लोगों ने माना कि हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी चुनते वक्त उसका क्लेम सेटलमेंट रेश्यो सबसे महत्वपूर्ण होता है. इसके बाद हॉस्पिटल का नेटवर्क, ब्रांड, रिश्तेदारों और मित्रों की सलाह की भूमिका अहम होती है.

रिपोर्ट का दावा, सेहत बचाने के लिए नहीं टैक्स बचाने के लिए लोग खरीदते हैं बीमा
फाइल फोटो.

बेंगलुरू: भारत के लोग अभी भी टैक्स बचाने और निवेश के लिए बीमा खरीदते हैं, हालांकि अब धीरे-धीरे लोगों में जागरूकता आ रही है वे मानने लगे हैं कि बीमा का मतलब सुरक्षा होता है. हेल्थ इंश्योरेंस सर्वे में शामिल 98 फीसदी लोगों ने कहा कि उन्होंने मेडिकल खर्चो के लिए वित्तीय सुरक्षा हासिल करने हेतु हेल्थ इंश्योरेंस खरीदा. सर्वेक्षण में शामिल लगभग 40 फीसदी लोगों ने माना कि हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी चुनते वक्त उसका क्लेम सेटलमेंट रेश्यो सबसे महत्वपूर्ण होता है. इसके बाद हॉस्पिटल का नेटवर्क, ब्रांड, रिश्तेदारों और मित्रों की सलाह की भूमिका अहम होती है. एक चौथाई उत्तरदाताओं ने कवर राशि चुनते वक्त महंगे होते इलाज को सबसे महत्वपूर्ण पहलू माना.

5600 ग्राहकों का किया सर्वेक्षण
पॉलिसीबाजार डॉट कॉम पर 5,600 मौजूदा बीमा ग्राहकों का सर्वेक्षण किया गया और बीमा के प्रति उनके दृष्टिकोण, धारणा और व्यवहार को जानने की कोशिश की गई. सर्वे के परिणाम यह दिखाते हैं कि 24 फीसदी ग्राहकों ने टैक्स बचाने और जीवन में आए बड़े निजी बदलाव जैसे कि विवाह और बच्चों का जन्म जैसे विभिन्न कारकों को अधिक महत्व दिया.

ले रहे हैं हेल्थ इंश्योरेंस तो इन 5 बातों का रखें ध्यान, क्लेम में नहीं होगी दिक्कत

लाइफ इंश्योरेंस सर्वे के परिणाम मुताबिक, 10 में से 6 प्रतिभागियों ने टर्म लाइफ इंश्योरेंस को वित्तीय सुरक्षा के लिए खरीदा. लगभग 38 फीसदी प्रतिभागियों ने विभिन्न कारणों के चलते कवर खरीदा, जिसमें खुद को और अपने परिवार को वित्तीय रूप से सुरक्षित करना और टैक्स बचाने जैसे कारण शामिल थे. सर्वे के मुताबिक, 10 में से 4 उत्तरदाताओं ने एक ऐसा टर्म कवर खरीदा, जिसने उन्हें रिटायर होने तक वित्तीय सुरक्षा प्रदान की या फिर वे अपने वित्तीय जिम्मेदारियों या देनदारियों से पूरी तरह मुक्त रहे. लगभग एक तिहाई उपभोक्ताओं ने उतनी अवधि के लिए टर्म इंश्योरेंस खरीदा, जितनी कि उनकी कमाई करने की अवधि है. 

गाड़ी चोरी के डर से खरीदते हैं मोटर इंश्योरेंस
मोटर इंश्योरेंस सर्वे के परिणाम के मुताबिक, 10 में से 7 मोटर इंश्योरेंस ग्राहकों ने इसलिए बीमा खरीदा क्योंकि यह वाहन मालिकों के लिए अनिवार्य है और यह वाहन के नुकसान या चोरी के चलते होने वाले वित्तीय नुकसान के प्रति सुरक्षा प्रदान करता है. एक तिहाई उत्तरदाताओं ने थर्ड पार्टी दायित्व को ध्यान में रखते हुए मोटर बीमा खरीदा था. 10 में से 5 उपभोक्ताओं को यह पता था कि थर्ड पार्टी कवर कानूनी रूप से अनिवार्य है.