close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कल से लगातार 4 दिन बंद रहेंगे बैंक, आज ही निपटा लें अपने जरूरी काम

अगर आपका भी अक्टूबर में बैंक से संबंधित कोई जरूरी काम पेंडिंग है तो आप उसे आज ही निपटा लीजिए. जैसा कि हम आपको पहले भी बता चुके हैं कि अक्टूबर के अंतिम हफ्ते में बैंकों में लगातार चार दिन कामकाज नहीं होगा.

कल से लगातार 4 दिन बंद रहेंगे बैंक, आज ही निपटा लें अपने जरूरी काम

नई दिल्ली : अगर आपका भी अक्टूबर में बैंक से संबंधित कोई जरूरी काम पेंडिंग है तो आप उसे आज ही निपटा लीजिए. जैसा कि हम आपको पहले भी बता चुके हैं कि अक्टूबर के अंतिम हफ्ते में बैंकों में लगातार चार दिन कामकाज नहीं होगा. पूरे अक्टूबर महीने की बात करें तो इस महीने 11 दिन बैंकों को अवकाश है, जिसमें से 6 साप्ताहिक अवकाश और 5 दिन त्योहार के कारण अवकाश है.

अक्टूबर में ही दिवाली और दशहरा जैसे बड़े त्योहार हैं तो इस कारण भी बैंकों की छुट्टी रही. आज 25 अक्टूबर है, 26 अक्‍टूबर को चौथा शनिवार और 27 को रविवार के कारण बैंकों का अवकाश रहेगा. हालांकि इस बार दिवाली रविवार को है. 28 अक्‍टूबर को गोवर्धन पूजा की छुट्टी रहेगी और 29 अक्‍टूबर को भैया दूज है.

नवंबर में 7 दिन बंद रहेंगे बैंक
नवंबर 2019 में 3, 10, 17 और 24 नवंबर को रविवार है और 9 और 23 नवंबर को सेकंड सेटर्डे है. गुरु नानक जयंती 12 नवंबर को पड़ रही है, उस दिन भी बैंक बंद (Bank Holiday) रहेंगे.

दिसंबर में 8 दिन की छुट्टी
दिसंबर 2019 में भी बैंकों में 8 दिन छुट्टी पड़ेगी. इनमें 5 रविवार की छुट्टी शामिल है. वहीं दो छुट्टियां दूसरे और चौथे शनिवार की है. सिर्फ 1 छुट्टी 25 दिसंबर की पड़ रही है.

2020 में 14 छुट्टियां होंगी बर्बाद
साल 2020 में 6 सरकारी छुट्टियां शनिवार और रविवार को पड़ रही हैं. इनमें रिपब्लिक डे, बकरीद, स्‍वतंत्रता दिवस (Independence Day), मुहर्रम, दशहरा (Dussehra) और दिवाली (Saturday) शामिल है. केंद्र सरकार के कार्मिक विभाग ने यह कैलेंडर जारी किया है.

राज्‍य बदल सकते हैं छुट्टी का दिन
इस नोटिफिकेशन के मुताबिक 2020 में रिपब्लिक डे, इंडिपेंडेंस डे समेत कुल 14 राष्‍ट्रीय अवकाश पड़ेंगे. नोटिफिकेशन के मुताबिक दिल्‍ली से बाहर राज्‍य की राजधानी में स्थित केंद्रीय सरकारी कार्यालयों में घोषित छुट्टी के दिन बदले जा सकेंगे.