BSNL के करोड़ों ग्राहकों की बल्‍ले-बल्‍ले, सरकार ने बताया-कब‍ से म‍िलेगी 5G सर्व‍िस?
topStories1hindi1478339

BSNL के करोड़ों ग्राहकों की बल्‍ले-बल्‍ले, सरकार ने बताया-कब‍ से म‍िलेगी 5G सर्व‍िस?

Ashwini Vaishnaw: टेलीकॉम कंपन‍ियों की तरफ से बताया गया क‍ि 4G और 5G का टैर‍िफ लगभग एक जैसा होगा. केंद्रीय टेलीकॉम म‍िन‍िस्‍टर अश्विनी वैष्णव ने सरकार के ओनरश‍िप वाली बीएसएनएल (BSNL) ग्राहकों को बड़ी खुशखबरी दी है.

BSNL के करोड़ों ग्राहकों की बल्‍ले-बल्‍ले, सरकार ने बताया-कब‍ से म‍िलेगी 5G सर्व‍िस?

Indian Telecom Industry: ज‍ियो और एयरटेल जैसी द‍िग्‍गज न‍िजी टेलीकॉम कंपन‍ियों ने देश के अलग-अलग सर्क‍िल में 5G सर्व‍िस (5G Service) शुरू कर दी है. दोनों ही कंपन‍ियों ने नए साल में देशभर में 5G सर्व‍िस को शुरू करने का ऐलान क‍िया है. ऐसे में कुछ लोगों को यह च‍िंता सता रही है क‍ि 5G का र‍िचार्ज 4G के मुकाबले महंगा होगा. लेक‍िन इस पर टेलीकॉम कंपन‍ियों की तरफ से बताया गया क‍ि दोनों की कीमत लगभग एक जैसी होंगी. इस बीच केंद्रीय टेलीकॉम म‍िन‍िस्‍टर अश्विनी वैष्णव ने सरकार के ओनरश‍िप वाली बीएसएनएल (BSNL) ग्राहकों को बड़ी खुशखबरी दी है.

1.35 लाख टावर्स में शुरू होगी 5G तकनीक
टेलीकॉम म‍िन‍िस्‍टर ने बताया क‍ि 4G बेस्‍ड टेक्‍न‍ीक को आने वाले 5-7 महीनों में 5G (5G) में अपडेट कर द‍िया जाएगा. उन्होंने बताया क‍ि बीएसएनएल के देशभर में मौजूद 1.35 लाख टावर्स में 5G को शुरू क‍िया जाएगा. उद्योग मंडल सीआईआई (CII) के एक कार्यक्रम में वैष्णव ने कहा कि सरकार ने देश की इनोवेशन को प्रमोट करने के ल‍िए टेलीकम्‍युन‍िकेशन टेक्‍नोलॉजी डेवलपमेंट फंड (TTDF) को 500 करोड़ रुपये सालाना से बढ़ाकर 4,000 करोड़ रुपये करने की योजना बनाई है.

BSNL टेलीकॉम सेक्‍टर में मजबूत स्थिति में होगा
कोटक बैंक के सीईओ उदय कोटक की तरफ से टेलीकम्‍युन‍िकेशन इंडस्‍ट्री में बीएसएनएल (BSNL) की भूमिका के बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में वैष्णव ने कहा कि बीएसएनएल (BSNL) टेलीकॉम सेक्‍टर में बहुत मजबूत स्थिति में होगा. उन्होंने कहा कि बीएसएनएल के पास देशभर में करीब 1.35 लाख मोबाइल टावर्स हैं.

इसके अलावा कंपनी की रूरल एर‍िया में काफी मजबूत उपस्थिति है. कई इलाकों में दूसरी टेलीमॉम कंपन‍ियां अभी तक नहीं पहुंच सकी हैं. वैष्णव ने कहा, 'दूरसंचार प्रौद्योगिकी को स्थापित किया जा रहा है. यह 4जी तकनीक ‘स्टैक’ है, जिसे पांच से सात महीने में 5जी में अपडेट किया जाएगा. इस प्रौद्योगिकी ‘स्टैक’ को देश के 1.35 लाख दूरसंचार टावरों में लागू किया जाएगा.' (इनपुट PTI)

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi - अब किसी और की ज़रूरत नहीं

Trending news