बिजनेस करने के लिए 10 लाख तक मिलेगा लोन, ऐसे उठाएं सरकार की इस योजना का फायदा

कोरोना महामारी में किसी की नौकरी गई तो किसी का बिजनेस ही चौपट हो गया. लेकिन धीरे धीरे ही सही लोगों की जिंदगी फिर से पटरी पर लौटने लगी है. मोदी सरकार भी लोगों को फिर से उनके रोजगार वापस दिलाने के लिए कई योजनाएं चला रही है.

बिजनेस करने के लिए 10 लाख तक मिलेगा लोन, ऐसे उठाएं सरकार की इस योजना का फायदा

नई दिल्ली: कोरोना महामारी (Coronavirus) में किसी की नौकरी गई तो किसी का बिजनेस (Business) ही चौपट हो गया. लेकिन धीरे धीरे ही सही लोगों की जिंदगी फिर से पटरी पर लौटने लगी है. मोदी सरकार (Modi Government) भी लोगों को फिर से उनके रोजगार वापस दिलाने के लिए कई योजनाएं चला रही है. इसके लिए आत्मनिर्भर भारत 3.0 (Aatmanirbhar Bharat Mission) भी लॉन्च हो चुका है. इसके जरिए मोदी सरकार बंद हुए धंधे या कारोबार को फिर से खड़ा करने का मौका दे रही है.

अगर आप भी लॉकडाउन (Lockdown) के बाद खुद का कारोबार शुरू करना चाहते हैं तो इस योजना का फायदा उठा सकते हैं. छोटा कारोबार शुरू करने या फिर अपने पुराने काम को और तरक्की देने के लिए सरकार 10 लाख रुपए तक के लोन की कई योजनाएं चला रही है.

बैंक नहीं तो 'मुद्रा' से मिलेगा लोन

अगर आप कोई छोटा-मोटा रोजगार शुरू करना चाहते हैं, लेकिन बैंक से लोन नहीं मिल पा रहा तो मोदी सरकार की प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) आपके लिए ही है. इस योजना के तहत वो हर व्यक्ति लोन ले सकता है जिसके नाम कोई कुटीर उद्योग है या जिसके पास पार्टनरशिप के दस्‍तावेज हैं.

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) के तहत तीन चरणों में लोन दिए जाते हैं. 

तीन तरह के मुद्रा लोन 

1. शिशु लोन- इसके तहत आप अपने बिजनेस को शुरू करने के लिए 50,000 रुपये तक का लोन ले सकते हैं. ये लोन उनके लिए है जो नया कारोबार शुरू करना चाहते हैं या शुरुआती स्टेज में हैं
2. किशोर लोन- इसके तहत 5 लाख रुपये तक का लोन लिया जा सकता है. ये लोन उनको मिलता है जो मौजूदा बिजनेस का विस्तार करना चाहते हैं.
3. तरुण लोन- सरकार कारोबार के लिए 10 लाख रुपये तक का लोन देती है. ये लोन उनको मिलता है जिनका बिजनेस पूरी तरह से स्थापित है.  

क्या है लोन लेने की योग्यता? 

अगर आप नया कारोबार शुरू करना चाहते हैं या फिर अपने मौजूदा कारोबार को बढ़ाना चाहते हैं, तो आपको मुद्रा स्कीम से लोन मिल सकता है. इसके लिए शर्त ये है कि आपकी औसत मासिक कमाई 17000 रुपये से लेकर 15 लाख रुपये होनी चाहिए. 
इसके अलावा कम से कम दो साल तक जॉब का रिकॉर्ड भी होना जरूरी है. इस योजना के तहत व्यापार, विक्रेता, दुकानदार, छोटे उद्योगपति, निर्माता, कृषि से जुड़े व्यक्ति और व्यापारी जो कारोबार शुरू करना चाहते हैं वो लोन ले सकते हैं.

कैसे मिल सकता है मुद्रा योजना से लोन?

1. आधिकारिक वेबसाइट mudra.org.in से लोन एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड करें
2. तीन तरह के लोन में से जो लोन लेना है, उसी फॉर्म को डाउनलोड करें 
3. इसके बाद लोन एप्लीकेशन फॉर्म में सारी जानकारियों को भरें.
4. इस फॉर्म में बिजनेस शुरू करने की जगह के बारे में भी बताना होगा.
5. अगर आप रिजर्वेशन कोटे से है, तो जाति प्रमाण पत्र भी जमा करना होगा.
6. फॉर्म में 2 पासपोर्ट साइज फोटो भी लगेगी
7. बैंक में जाकर सारे डॉक्यूमेंट्स को जमा करें.
8. बैंक का ब्रांच मैनेजर आपसे आपके कारोबार और काम की जानकारी ले सकता है. इसके बाद आपके लोन को मंजूरी देगा
9. लोन मंजूर होने के बाद कुछ ही दिनों में आपको एक मुद्रा डेबिट कार्ड मिलेगा 
10. इस कार्ड में आपके लोन की राशि जमा कर दी जाएगी. जिसका इस्तेमाल आप कारोबार को शुरू करने लिए कर सकते हैं

क्या है Mudra लोन की ब्याज दर? 

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) के तहत सरकार बिना गारंटी के लोन देती है. इसके लिए कोई प्रोसेसिंग फीस भी नहीं ली जाती है. इसके तहत लिए गए लोन पर ब्याज की दरें अलग-अलग होती हैं. ये कारोबार पर निर्भर करता है. वैसे न्यूनतम ब्याज दर करीब 12% है.

कहां से मिलेगा लोन?

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) के तहत किसी भी सरकारी बैंक, ग्रामीण बैंक, सहकारी बैंक, प्राइवेट बैंक या विदेशी बैंकों से लोन लिया जा सकता है. आरबीआई ने 27 सरकारी बैंक, 17 प्राइवेट बैंक, 31 ग्रामीण बैंक, 4 सहकारी बैंक, 36 माइक्रो फाइनेंस संस्थान और 25 गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (NBFC) को मुद्रा लोन बांटने के लिए अधिकृत किया गया है. प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के बारे में और ज्यादा जानकारी के लिए ऑफिशियल वेबसाइट  mudra.org.in पर पूरी डीटेल्स मौजूद हैं.

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.