Budget 2021: इस बार Print नहीं हो रहा बजट, ऐप पर मिलेगी पूरी जानकारी

 Budget 2021: कोरोना (Corona) के कहर में बजट (Budget) का पारंपरिक अंदाज भी बदलने जा रहा है. बजट सत्र शुरू होने से पहले ही केंद्रीय बजट मोबाइल ऐप (Mobile App) लॉन्च कर दी गई है जिस पर पूरा देश बजट की पूरी जानकारी ले सकेगा. 1 फरवरी को बजट पेश किया जाना है, उससे पहले वित्त मंत्रालय (Finance Ministry) के इस कदम को काफी अहम माना जा रहा है.

Budget 2021: इस बार Print नहीं हो रहा बजट, ऐप पर मिलेगी पूरी जानकारी
केंद्रीय बजट मोबाइल ऐप लॉन्च

Budget 2021: कोरोना (Corona) के कहर और लगातार डिजिटल इंडिया को बढ़ावा दे रही मोदी सरकार ने एक और बड़ा कदम उठाया है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने केंद्रीय बजट मोबाइल ऐप लॉन्च कर दी है जिस पर बजट पेश होने के बाद बजट का पूरा लेखा-जोखा होगा.

ऐप से मिलेगी पूरी जानकारी

केंद्रीय बजट मोबाइल ऐप (Central Budget Mobile Applicaton) के जरिए स्मार्ट फोन यूजर हिंदी (Hindi) और अंग्रेजी (English) दोनों भाषाओं में बजट की जानकारी ले सकेंगे. आम लोगों तक बजट की पूरी जानकारी पहुंच सके, इस इरादे से केंद्रीय बजट मोबाइल ऐप को तैयार किया गया है. बजट की ये ऐप एंड्रॉयड और iOS दोनों पर उपलब्ध है. इस मोबाइल ऐप को नेशनल इन्फोर्मेटिक्स सेंटर (NIC) ने आर्थिक मामलों के विभाग (DEA) के नेतृत्व में बनाया है.

ये भी पढ़ें: भारत-चीन के बीच 9वें दौर की कॉर्प्स कमांडर स्तर की अहम बैठक आज, क्या बन पाएगी सहमति?

VIDEO

कैसे काम करेगा ऐप

वित्त मंत्रालय (Finance Ministry) के मुताबिक ऐप का यूजर फ्रेंडली इंटरफेस होगा और इसमें 14 अलग केंद्रीय बजट के दस्तावेजों (Documents) का एक्सेस यूजर्स को मिलेगा जिसमें  सालाना फाइनेंशियल स्टेटमेंट (Budget), डिमांड फॉर ग्रांट्स (DG) और फाइनेंस बिल (Finance Bill) शामिल है. वित्त मंत्रालय की तरफ से जो जानकारी अब तक सामने आई है, उसके मुताबिक एप के फीचर्स में डाउनलोड (Download), प्रिंट (Print), सर्च (Search), जूम इन और आउट (Zoom in and Out), दोनों दिशाओं में स्क्रॉल करना, कंटेंट टेबल और एक्सटरनल लिंक शामिल हैं.

ये भी पढ़ें: Swachh Bharat Mission: दिल्ली में प्लास्टिक कचरे के बदले मिलेगा ब्रेक फास्ट, लंच और डिनर; खुला Garbage Cafe

बजट पर कोरोना की मार

कोरोना के कहर से वित्त मंत्रालय भी अछूता नहीं रहा है. कोरोना की वजह से ही इस साल बजट को प्रिंट नहीं किया जा रहा है.  बजट के अलावा अलावा इकोनॉमिक सर्वे को भी प्रिंट नहीं किया जाएगा. इसका मतलब ये होगा कि बजट की हार्ड कॉपी सांसदों को नहीं दी जाएंगी. बजट और आर्थिक सर्वे की सॉफ्ट कॉपी ऐप से मिल सकेगी.

2 चरण में बजट सत्र

 बजट सत्र का पहला हिस्सा 29 जनवरी से 15 फरवरी तक चलेगा और दूसरा हिस्सा 8 मार्च से 8 अप्रैल तक चलेगा. पहले चरण के पहले दिन ही इकोनॉमिक सर्वे को सदन में पेश कर दिया जाएगा. 1 फरवरी को संसद में डिजिटल बजट (Digital Budget) पेश किया जाएगा, जिस पर पूरे देश की निगाहें टिकी हैं.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.