साइरस मिस्त्री ने टाटा समूह की सभी कंपनियों से इस्तीफा दिया

साइरस मिस्त्री ने सोमवार को बड़ा कदम उठाते हुए टाटा समूह की सभी सूचीबद्ध कंपनियों से हटने की घोषणा कर दी। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक साइरस ने एक बयान जारी कर कहा कि वह टाटा समूह के खिलाफ अब कानूनी रास्ता अख्तियार करेंगे। 

साइरस मिस्त्री ने टाटा समूह की सभी कंपनियों से इस्तीफा दिया

मुंबई : साइरस मिस्त्री ने सोमवार को बड़ा कदम उठाते हुए टाटा समूह की सभी सूचीबद्ध कंपनियों से हटने की घोषणा कर दी। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक साइरस ने एक बयान जारी कर कहा कि वह टाटा समूह के खिलाफ अब कानूनी रास्ता अख्तियार करेंगे। 

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक साइरस ने कहा कि मेरे प्रयास व्यवस्था में सुधार लाने के लिए थे और ये कदम शायद मुझे हटाने के कारण बने।

साइरस ने जारी एक वीडियो संदेश में कहा है कि परिणाम की चिंता किये बिना मैंने फैसले किये। उन्होंने कहा कि मेरा जोर बेहतर गवर्नेंस को लेकर है। उन्होंने कहा ग्रुप की बेहतरी के लिए मेरी लड़ाई जारी रहेगी। उन्होंने ग्रुप के भविष्य के लिए शेयरधारकों से आवाज उठाने की अपील की। उन्होंने कहा है कि शेयरधारकों के हित को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है।

आईएचसीएल की 2015-16 की रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी में मिस्त्री के 1,28,625 शेयर हैं। टाटा स्टील में टाटा संस की 29.75 पर्सेंट की हिस्सेदारी है। वहीं, सभी प्रमोटर्स और प्रमोटर ग्रुप्स की हिस्सेदारी 31.35 पर्सेंट हैं। नॉन प्रमोटर शेयरहोल्डर एलआईसी के पास कंपनी की 13.62 पर्सेंट की हिस्सेदारी है।

टाटा मोटर्स की बात करें तो इसमें टाटा संस की हिस्सेदारी 26.51 फीसदी है, जबकि सभी प्रमोटर्स और प्रमोटर्स ग्रुप्स की हिस्सेदारी करीब 33 पर्सेंट है। एलआईसी का शेयर 5.11 पर्सेंट है। निजी तौर पर मिस्त्री के इस कंपनी में 14,500 शेयर हैं। दूसरी तरफ टाटा केमिकल्स में टाटा संस का स्टेक 19.35 पर्सेंट है और सभी प्रमोटर्स एवं प्रमोटर्स ग्रुप की हिस्सेदारी 30.80 पर्सेंट हिस्सेदारी है। एलआईसी का इसमें 3.33 पर्सेंट हिस्सा है। मिस्त्री के इस कंपनी में 16,000 शेयर हैं।