Fitch Report में बड़ा दावा, 2021-22 में दुनिया को पीछे छोड़ देगी भारत की अर्थव्यवस्था
X

Fitch Report में बड़ा दावा, 2021-22 में दुनिया को पीछे छोड़ देगी भारत की अर्थव्यवस्था

कोरोना काल में पटरी से उतरी भारत की अर्थव्यवस्था (Indian Economy) के लिए 2021 अच्छी खबर लेकर आया है. ग्लोबल रेटिंग एजेंसी फिच (Fitch) ने दावा किया है कि 2021-22 के वित्तीय वर्ष में भारत की अर्थव्यवस्था सबसे तेजी से आगे बढ़ेगी.

 Fitch Report में बड़ा दावा, 2021-22 में दुनिया को पीछे छोड़ देगी भारत की अर्थव्यवस्था

दिल्ली: ग्लोबल रेटिंग एजेंसी फिच (Fitch) ने भारतीय अर्थव्यवस्था के बार में नया अनुमान लगाया है. Fitch के मुताबिक 1 अप्रैल से शुरू होने वाले वित्तीय वर्ष में भारत की अर्थव्यवस्था 12 फीसदी से भी ज्यादा तेजी से आगे बढ़ेगी. Fitch ने भारत की आर्थिक विकास दर के पुराने अनुमान को अपडेट कर नई रिपोर्ट जारी की है जिसमें दावा किया गया है कि 2021-22 के वित्तीय वर्ष में भारत की अर्थव्यवस्था के विकास की दर 12.8 फीसदी रह सकती है.

Fitch ने पहले क्या कहा था

आपको बता दें कि Fitch ने पहले 2021-22 में भारत की अर्थव्यवस्था की विकास दर 11 फीसदी रहने का अनुमान जताया था लेकिन अब जिस तरह के संकेत मिल रहे हैं उसके मुताबिक Fitch ने अपनी रिपोर्ट में सुधार किया है और पहले के मुकाबले करीब 1.8 फीसदी की दर से बढ़ोतरी का नया अनुमान लगाया है. फिच से पहले अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) और मूडीज (Moodys) ने भी वित्तीय वर्ष 2021-22 में भारत का इकोनॉमिक ग्रोथ रेट 11.5 फीसदी और 12 फीसदी रहने का अनुमान लगाया है. हालांकि फिच की जो नई रिपोर्ट सामने आई है उसमें भारत की इकोनोमिक ग्रोथ 12.8 फीसदी की दर का अनुमान लगाया है.

कोरोना वैक्सीन बनेगी बड़ा आधार

पूरी दुनिया में जिस तरह से कोरोना ने कोहराम मचाया उसे हर किसी ने देखा. वैक्सीन तो भारत के साथ कई और देशों ने भी बना ली है लेकिन जितने कम रुपयों में भारत की वैक्सीन तैयार की गई है, उसने भारत को सबसे आगे कर दिया है. भारत में वैक्सीनेशन प्रक्रिया की तारीफ भी कई लोग कर रहे हैं. हाल ही में नंदन नीलेकनि ने भी भारत में वैक्सीनेशन प्रक्रिया की खुले दिल से तारीफ की है. इनफोसिस के को-फाउंडर नंदन नीलेकनि (Nandan Nilekani) ने तो ये मांग भी कर दी है कि भारत को दुनिया की वैक्सीन कैपिटल घोषित कर देना चाहिए.

ये भी पढ़ें:Corona Vaccination: नंदन नीलेकनि ने की भारत के टीकाकरण अभियान की तारीफ, कही ये बात

सबसे आगे होगा भारत

भारत के साथ ही फिच ने 2021-22 में अमेरिका की जीडीपी ग्रोथ रेट 6.2 फीसदी रहने का अनुमान जताया है. एजेंसी ने इससे पहले अमेरिका का इकोनॉमिक ग्रोथ रेट 4.5 फीसदी रहने का अनुमान जताया था. चीन (China) का इकोनॉमिक ग्रोथ रेट 8.4 फीसदी रहने का अनुमान लगाया गया है जो कि पहले 8 फीसदी रहने का अनुमान था. यूरोपियन यूनियन के इकोनॉमिक ग्रोथ के अनुमान में फिच ने कोई बदलाव नहीं किया है, ये पहले की तरह ही 4.7 फीसदी रखा गया है.

VIDEO

Trending news