close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

इस वित्त वर्ष की पहली तिमाही में ICICI को 1908 करोड़ का नेट प्रॉफिट

बैंक ने एक बयान में कहा कि वित्तवर्ष 2020 की पहली तिमाही में नेट ब्याज मार्जिन 3.61 फीसदी रही जो 2019 की पहली तिमाही में 3.19 फीसदी और चौथी तिमाही में 3.72 फीसदी थी.

इस वित्त वर्ष की पहली तिमाही में ICICI को 1908 करोड़ का नेट प्रॉफिट
फाइल फोटो

मुंबई: निजी क्षेत्र के प्रमुख बैंक ICICI बैंक ने शनिवार को बताया कि वित्तवर्ष 2019-20 की पहली तिमाही में उसका नेट प्रॉफिट 1,908 करोड़ रुपये रहा. बैंक ने बताया कि चालू वित्तवर्ष की पहली तिमाही में उसे पिछले साल के मुकाबले 120 करोड़ रुपये का नेट लॉस हुआ. हालांकि ब्याज से प्राप्त बैंक की नेट प्रॉफिट आलोच्य तिमाही में पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले बढ़कर 7,737 करोड़ रुपये हो गई. पिछले साल की इसी तिमाही में ब्याज से बैंक की नेट प्रॉफिट 6,102 करोड़ रुपये थी. 

बैंक ने एक बयान में कहा, "वित्तवर्ष 2020 की पहली तिमाही में नेट ब्याज मार्जिन 3.61 फीसदी रही जो 2019 की पहली तिमाही में 3.19 फीसदी और चौथी तिमाही में 3.72 फीसदी थी." बयान के अनुसार, बैंक ने आलोच्य तिमाही में 3,496 करोड़ रुपये मूल्य का प्रॉविजन किया जबकि पिछले साल इसी तिमाही में बैंक ने 5,971 करोड़ रुपये मूल्य का प्रॉविजन किया था. 

बैंक ने बताया कि नेट एनपीए (गैर-निष्पादित परिसंपत्ति) अनुपात 30 जून 2018 को 4.19 फीसदी था जोकि घटकर 30 जून 2019 को 1.77 फीसदी रह गया. यह पिछली 14 तिमाहियों में सबसे कम है. बैंक के अनुसार, सकल एनपीए में वृद्धि वित्त वर्ष 2020 की पहली तिमाही में 2,779 करोड़ रुपये रही जोकि 31 मार्च 2019 को समाप्त हुई पिछले वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में 1,170 करोड़ रुपये थी. ICICI बैंक की समेकित परिसंपत्ति 30 जून 2019 को समाप्त हुई तिमाही में पिछले साल की समान अवधि के 10,98,790 करोड़ रुपये से 14 फीसदी बढ़कर 12,50,472 करोड़ रुपये हो गई.