कोल्हापुरी चप्पल को मिली ग्लोबल पहचान, GI टैग दिया गया

कोल्हापुरी चप्पल को मिली ग्लोबल पहचान, GI टैग दिया गया

महाराष्ट्र के कोल्हापूर, सांगली, सतारा और सोलापूर जिलों में और कर्नाटक के बेलगांव, धारवाड़, बागलकोट और बीजापुर इन जिलों को कोल्हापूर चप्पल बनाने का जीआई टैग मिला है. 

कोल्हापुरी चप्पल को मिली ग्लोबल पहचान, GI टैग दिया गया

प्रताप नाइक, कोल्हापुर: महाराष्ट्र के चार और कर्नाटक के चार जिलों के लिए कोल्हापुरी चप्पल को GI (Geographical Indication) टैग मिला है. महाराष्ट्र के कोल्हापूर, सांगली, सतारा और सोलापूर जिलों में और कर्नाटक के बेलगांव, धारवाड़, बागलकोट और बीजापुर इन जिलों को कोल्हापूर चप्पल बनाने का जीआई टैग मिला है. माना जा रहा है कि महाराष्ट्र के लोग कर्नाटक के जिलों को भी जीआई टैग में शामिल करने का विरोध कर सकते हैं.

जानवरों के चमड़े से बनने वाली कोल्हापुरी चप्पल देशभर में अपनी मजबूती के लिए जानी जाती है. साथ ही यह अपनी डिजाइन और खूबसूरती के लिए भी जानी जाती है. इसकी लोकप्रियता पूरे देश में है और हर कोई इसे शौख से पहनना पसंद करते हैं. यही वजह है कि अन्य जगहों पर कोल्हापुरी चप्पल के नाम पर बेची जानेवाली चप्पलों पर पाबंदी लाने की मांग पुरानी है. अब टैग मिलने से यह आसानी हो सकती है. 

Trending news