आज से मैग्नेटिक स्ट्रिप वाले कार्ड नहीं करेंगे काम, ऐसे बदलवाएं पुराने कार्ड

नए कार्ड के लिए ग्राहकों को अपनी पासबुक लेकर बैंक जाना होगा और एक फॉर्म भरना होगा. 

आज से मैग्नेटिक स्ट्रिप वाले कार्ड नहीं करेंगे काम, ऐसे बदलवाएं पुराने कार्ड
फाइल फोटो.

नई दिल्ली: पहले कैश का चलन था. वक्त बदला और बदलते वक्त में कैश की जगह कार्ड का इस्तेमाल किया जाने लगा. अब पैसे निकालने के लिए बैंक जाने की जरूरत नहीं रह गई है. जगह-जगह ATM लगे हुए हैं. हर बड़े दुकान पर खरीददारी के लिए कार्ड का इस्तेमाल होने लगा है. ऐसे में कार्ड की सुरक्षा बेहद अहम है. इसलिए, बदलते वक्त के साथ डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड के डेटा को ज्यादा सुरक्षित रखना अहम हो गया है. यही वजह है कि पुराना मैग्नेटिक स्ट्रिप वाला कार्ड आज से काम करने बंद कर दिया है. आज से केवल चिप वाला कार्ड ही काम करेगा.

रिर्जव बैंक ऑफ इंडिया मैग्‍नेटिक  स्ट्रिप कार्डों को ईएमवी (यूरोप, मास्टरकार्ड और वीजा) वाले चिप कार्ड से बदलने के लिए 31 दिसंबर, 2018 तक दिशा-निर्देश जारी किया था. RBI का मानना है कि नए ईएमवी कार्ड से फ्रॉड होने का खतरा बेहद कम होगा. इसको लेकर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने भी ट्वीट किया है कि 31 दिसंबर से पहले आप अपने ऐसे कार्ड बदल लें.

 

 

कैसे बदलेगा कार्ड?
बैंक की ओर से ट्वीट कर दी गई जानकारी के मुताबिक, पुराने ATM कार्ड बदलकर उनकी जगह EVM चिप वाला डेबिट कार्ड जारी किया जा रहा है. इसके लिए ग्राहकों को अपनी पासबुक लेकर बैंक जाना होगा और एक फॉर्म भरना होगा. इसके बाद वे नया और सुरक्षित कार्ड ले सकते हैं. जो लोग इंटरनेट बैंकिंग इस्तेमाल करते हैं, वे ऑनलाइन भी नए कार्ड का आवेदन कर सकते हैं. इसके अलावा बैंक की ब्रांच में जाकर भी ऑनलाइन अप्लाई करने का विकल्प है.

क्या है दोनों कार्ड्स में अंतर?
अगर आपके डेबिट या क्रेडिट कार्ड में सामने की ओर बाईं तरफ मोबाइल के सिम कार्ड की तरह नजर आने वाला चिप नहीं लगा है, तो ये पुराना यानी मैग्‍नेटिक स्ट्रिप कार्ड है. इस कार्ड से ट्रांजैक्‍शन के लिए कार्डहोल्‍डर के सिग्‍नेचर या पिन की जरूरत होती है. इस पर आपके अकांउट की डिटेल्‍स मौजूद होती है. इसी स्ट्रिप की मदद से कार्ड स्‍वाइप के वक्‍त मशीन आपके बैंक इंटरफेस से जुड़ती है और प्रोसेस आगे बढ़ता है. वहीं, चिप वाले कार्ड में सारी इन्‍फॉरमेशन चिप में मौजूद होती है। इनमें भी ट्रांजैक्‍शन के लिए पिन और सिग्‍नेचर जरूरी होते हैं लेकिन, ईएमवी चिप कार्ड में ट्रांजैक्‍शन के वक्‍त यूजर को ऑथेंटिकेट करने के लिए एक यूनीक ट्रांजैक्‍शन कोड जनरेट होता है, जो वेरिफिकेशन को सपोर्ट करता है. ऐसा मैग्नेटिक स्ट्रिप कार्ड में नहीं होता.

नहीं लगेगी कोई फीस
अगर आप SBI के ग्राहक हैं तो आपके लिए जरूरी है कि जल्द ही अपना कार्ड बदल लें, क्योंकि, SBI मैग्‍नेटिक स्‍ट्राइप एटीएम को ब्लॉक कर रहा है. बैंक अपने ग्राहकों के लिए पुराने मैग्‍नेटिक स्‍ट्राइप कार्ड को चिप वाले कार्ड से रिप्‍लेस करने का नोटिफिकेशन भी जारी कर चुका है.