चीन को मलेशिया ने दिया झटका, रेल प्रोजेक्ट रोका गया, ये रही बड़ी वजह

पूर्ववर्ती सरकार के दौरान चीन द्वारा वित्तपोषित कई परियोजनाओं पर हस्ताक्षर किये गये थे.

चीन को मलेशिया ने दिया झटका, रेल प्रोजेक्ट रोका गया, ये रही बड़ी वजह
मलेशिया के प्रधानमंत्री महाथिर मोहम्मद. (फाइल)

कुआलालम्पुर: मलेशिया ने चीन के समर्थन की अरबों डॉलर की एक रेल परियोजना को बंद कर दिया है. मलेशिया का कहना है कि इसकी लागत काफी अधिक होने के कारण यह निर्णय लिया गया है. मलेशिया सरकार के अधिकारियों ने शनिवार को इसकी जानकारी दी. मलेशिया ने पिछली सरकार के दौरान अनुबंधित कई परियोजनाओं को हालिया महीनों में बंद किया है. मौजूदा सरकार 251 अरब डॉलर यानी एक हजार अरब रिंगिट के भारी-भरकम कर्ज को कम करने के लिये ये कदम उठा रही है.

मलेशिया के अर्थ मंत्री अजमीन अली ने कहा कि 19.6 अरब डॉलर यानी 81 अरब रिंगिट की पूर्वी तटीय रेल लिंक (ईसीआरएल) को बंद करने का निर्णय दो दिन पहले लिया गया. यह देश के पूर्वी और पश्चिमी तट को जोड़ने वाला था. उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ईसीआरएल की लागत काफी अधिक है. अभी हमारी वित्तीय क्षमता इस योग्य नहीं है.’’ उन्होंने कहा कि यदि परियोजना को बंद नहीं किया जाता तो मलेशिया को सालाना 50 करोड़ रिंगिट का ब्याज भरना होता.

मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री नजीब रज्जाक के चीन से काफी करीबी संबंध थे. उनकी सरकार के दौरान चीन द्वारा वित्तपोषित कई परियोजनाओं पर हस्ताक्षर किये गये थे. हालांकि आलोचकों का कहना है कि इन परियोजनाओं में पारदर्शिता की कमी थी. नये प्रधानमंत्री महाथिर मोहम्मद ने सत्ता में वापस आते ही नजीब सरकार के दौरान हस्ताक्षर की गयी परियोजनाओं की समीक्षा के आदेश दिये थे.

(इनपुट-भाषा)