Petrol Price Today 26 March 2021 Updates: आज नहीं बदले पेट्रोल-डीजल के दाम, 91 रुपये के नीचे आया Petrol
X

Petrol Price Today 26 March 2021 Updates: आज नहीं बदले पेट्रोल-डीजल के दाम, 91 रुपये के नीचे आया Petrol

Petrol Price Today 26 March 2021 Updates: दो दिनों की कटौती के बाद आज पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं हुआ है. इन दो दिनों की कटौती के बाद दिल्ली और कोलकाता में पेट्रोल का भाव 91 रुपये के नीचे चला गया है. 

Petrol Price Today 26 March 2021 Updates: आज नहीं बदले पेट्रोल-डीजल के दाम, 91 रुपये के नीचे आया Petrol

Petrol Price 26 March 2021 Update: आम आदमी के लिए मार्च का महीना थोड़ी राहत भरा रहा है. पेट्रोल डीजल की कीमतों में लगातार दो दिनों तक कटौती हुई. दो दिनों में पेट्रोल 39 पैसे और डीजल 37 पैसे सस्ता हुआ है. हालांकि आज पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं हुआ है. 

पेट्रोल डीजल की कीमतों में इस कटौती की सबसे बड़ी वजह ग्लोबल मार्केट में कच्चे तेल की कमजोरी है. दो हफ्तों के दौरान कच्चा तेल 10 परसेंट से ज्यादा टूट चुका  है. कच्चे तेल की कीमत 71 डॉलर प्रति बैरल की ऊंचाई से गिरकर 62 डॉलर प्रति बैरल पर आ गई है.  इसके पहले फरवरी में पेट्रोल-डीजल 16 बार महंगा हुआ था. हालांकि पेट्रोल-डीजल के दाम अब भी रिकॉर्ड ऊंचाई पर हैं. 

4 मेट्रो शहरों में Petrol की कीमतें 

दिल्ली में पेट्रोल बीते दो दिनों में 39 पैसे प्रति लीटर सस्ता हुआ है, जबकि डीजल 37 पैसे घटा है. दिल्ली में आज पेट्रोल 90.78 रुपये प्रति लीटर पर मिल रहा है. मुंबई में भी पेट्रोल 97.19 रुपये प्रति लीटर पर बिक रहा है. कोलकाता में पेट्रोल 90.98 रुपये है. चेन्नई में पेट्रोल 92.77 रुपये प्रति लीटर पर बिक रहा है. 

4 मेट्रो शहरों में Petrol की कीमतें 

शहर            कल का रेट     आज का रेट          

दिल्ली           90.78             90.78                                
मुंबई             97.19             97.19             
कोलकाता     90.98             90.98            
चेन्नई             92.77            92.77   

2021 में पेट्रोल-डीजल में लगी आग

मार्च में अबतक दो बार पेट्रोल-डीजल की कीमतें कम हुईं हैं, लेकिन इसके पहले फरवरी में पेट्रोल-डीजल के रेट में 16 बार बढ़ोतरी हुई है. इससे पहले जनवरी में रेट 10 बार बढ़े थे. इस दौरान पेट्रोल की कीमत में 2.59 रुपए और डीजल में 2.61 रुपए की बढ़ोतरी हुई थी. साल 2021 में अब तक तेल की कीमतें 26 दिन बढ़ाईं गई हैं. इस दौरान पेट्रोल 7.07 रुपये प्रति लीटर महंगा हो चुका है. 1 जनवरी को पेट्रोल का भाव 83.71 रुपये था, आज 90.78 रुपये प्रति लीटर है. इसी तरह दिल्ली में 1 जनवरी से लेकर आज तक डीजल 7.23 रुपये प्रति लीटर महंगा हुआ है. 1 जनवरी को दिल्ली में डीजल का दाम 73.87 रुपये प्रति लीटर था, आज 81.10 रुपये है. आज की कटौती इस साल की पहली कटौती है.

1 साल में पेट्रोल 21 रुपये से ज्यादा महंगा हुआ

अगर आज की कीमतों की तुलना ठीक साल भर पहले की कीमतों से करें तो 26 मार्च 2020 को दिल्ली में पेट्रोल का रेट 69.59 रुपये प्रति लीटर था, यानी साल भर में पेट्रोल 21.19 रुपये प्रति लीटर महंगा हो चुका है. डीजल भी 26 मार्च 2020 को 62.29 रुपये प्रति लीटर था, यानी डीजल भी साल भर में 18.81 रुपये प्रति लीटर महंगा हो गया है. आपको बता दें कि एक साल पहले इस दौरान कच्चा तेल 30 डॉलर प्रति बैरल के नीचे था. 

बीते दो दिनों की कटौती के बाद भी डीजल की कीमतें महंगाई के नए आसमान पर हैं. मुंबई में डीजल 88.20 रुपये प्रति लीटर है, दिल्ली में डीजल 81.10 रुपये प्रति लीटर, कोलकाता में डीजल 83.98 रुपये प्रति लीटर है, चेन्नई में डीजल का रेट 86.10 रुपये प्रति लीटर है. डीजल दिल्ली में सबसे महंगा डीजल पिछले साल जुलाई के आखिरी हफ्ते में बिका था, तब भाव 81.94 रुपये प्रति लीटर थे और पेट्रोल का रेट 80.43 रुपये प्रति लीटर था. यानी उस वक्त पेट्रोल से महंगा डीजल बिका था.

4 मेट्रो शहरों में Diesel के दाम 

शहर              कल का रेट     आज का रेट   
दिल्ली           81.10                 81.10
मुंबई             88.20                88.20  
कोलकाता      83.98                83.98
चेन्नई             86.10                86.10 

क्यों बढ़ रहे हैं पेट्रोल डीजल के दाम 

वजह नंबर 1- पेट्रोल डीजल की कीमतें बेलगाम क्यों हैं, इसके पीछे एक तर्क है कि अक्टूबर से लेकर अबतक कच्चे तेल का भाव करीब 50 परसेंट बढ़कर 66 डॉलर के पार चला गया है. इस साल अब तक कच्चा तेल 24 परसेंट तक महंगा हो गया है. क्योंकि दुनियाभर में आर्थिक गतिविधियों में अच्छी तरक्की दिख रही है. हालांकि ये पूरी वजह नहीं है, क्योंकि पिछले साल जनवरी में कच्चे तेल की कीमतें आज से काफी कम थीं, बावजूद इसके लोगों को पेट्रोल डीजल महंगा मिल रहा था. 

वजह नंबर 2- पेट्रोल डीजल महंगा होने के पीछे सबसे बड़ा कारण है केंद्र और राज्य सरकारों का टैक्स है. 2020 की शुरुआत में पेट्रोल पर सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी 19.98 रुपये थी, जो अब बढ़ाकर 32.98 रुपये कर दी गई है. इसी तरह डीजल पर एक्साइज ड्यूटी 15.83 रुपये प्रति लीटर से बढ़ाकर 31.83 रुपये प्रति लीटर कर दी गई है. 

वजह नंबर 3- केंद्र के अलावा राज्य सरकारों ने भी पेट्रोल-डीजल पर VAT बढ़ाया है. दिल्ली सरकार ने ही पेट्रोल पर VAT 27 परसेंट से बढ़ाकर 30 परसेंट कर दिया है. जबकि डीजल पर VAT मई में 16.75 परसेंट से बढ़ाकर 30 परसेंट कर दिया था, लेकिन जुलाई में फिर इसे घटाकर 16.75 परसेंट कर दिया था. पेट्रोल का बेस प्राइस 31.82 रुपये प्रति लीटर है, ऐसे में केंद्र और राज्यों का टैक्स मिलाकर देखा जाए तो वो बेस प्राइस से 180 परसेंट के करीब टैक्स लेती हैं. इसी तरह सरकारें डीजल के बेस प्राइस से 141 परसेंट टैक्स वसूल रही हैं. 

2008 में कच्चा तेल 147 डॉलर पर था, पेट्रोल 45 रुपये पर 

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम 62 डॉलर प्रति बैरल हैं, तब पेट्रोल 100 रुपये के पार बिक रहा है, कच्चा तेल 2008 में 147 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया था, तब पेट्रोल का रेट 45 रुपये प्रति लीटर था. 

खुद देखिए अपने शहर में पेट्रोल डीजल के दाम 

पेट्रोल-डीजल की कीमत आप SMS के जरिए भी जान सकते हैं. इंडियन ऑयल IOC आपको सुविधा देता है कि आप अपने मोबाइल में RSP और अपने शहर का कोड लिखकर 9224992249 नंबर पर भेजें. आपके मोबाइल पर तुरंत आपके शहर में पेट्रोल और डीजल का रेट आ जाएगा. हर शहर का कोड अलग-अलग है, जो आपको IOC आपको अपनी वेबसाइट पर देता है

रोजाना सुबह 6 बजे बदलती हैं कीमतें 

रोजाना सुबह छह बजे पेट्रोल और डीजल की नई कीमतें लागू हो जाती हैं. पेट्रोल और डीजल के दाम में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन और बाकी कई चीजें जोड़ने के बाद इसका दाम लगभग दोगुना हो जाता है.

Trending news