भारत के 70 लाख डेबिट-क्रेडिट कार्ड का डाटा लीक, तुरंत हो जाइए अलर्ट

डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड (Debit card, credit card) ने जिंदगी को जितना आसान बनाया है, बढ़ते डिजिटल फ्रॉड (Digital fraud) से मुश्किलें भी बढ़ीं हैं. खबर है कि 70 लाख कार्ड्स का डाटा लीक हो गया है.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Dec 10, 2020, 12:28 PM IST

नई दिल्ली: अगर आप डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड (Debit Card, Credit Card) का इस्तेमाल करते हैं तो आपके लिए ये खबर बेहद जरूरी है. 70 लाख भारतीय डेबिट और क्रेडिट कार्ड होल्डर्स का डाटा (Card Data) डार्क वेब पर लीक हो गया है. न्यूज एजेंसी IANS के मुताबिक, यह दावा इंटरनेट सिक्योरिटी रिसर्चर राजशेखर रजाहरिया ने किया है.

1/5

डेबिट, क्रेडिट कार्ड की बेहद निजी जानकारियां लीक

Debit card, credit card data leaked

लीक हुए डाटा में यूजर्स का नाम, फोन नंबर, ई-मेल आईडी, सालाना कमाई समेत कई निजी जानकारियां शामिल हैं. लीक हुई डीटेल्स का साइज 2 जीबी है, लीक डाटा में यह तक बताया गया है कि अकाउंट किस तरह का है और इस पर मोबाइल अलर्ट की सुविधा चल रही है या नहीं.

2/5

इस तरह शिकार बना सकते हैं हैकर्स

Threat to debit card data

रिसर्चर राजशेखर ने बताया कि डार्क वेब पर लीक हुआ डाटा साल 2010 से 2019 तक का है, जिसका इस्तेमाल हैकर्स कर सकते हैं. हैकर्स लीक हुई पर्सनल डीटेल्स का इस्तेमाल करके कार्ड होल्डर्स को फिशिंग या किसी दूसरे तरीके से अपना निशाना बना सकते हैं. 

3/5

डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड नंबर लीक नहीं

Debit card number not leaked

लेकिन एक राहत की बात ये है कि इस डाटा में डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड के नंबर लीक नहीं हुए. रिपोर्ट में दावा किया गया है कि हो सकता है यह डाटा थर्ड-पार्टी सर्विस प्रोवाइडर की तरफ से आया हो, जिसे बैंक ने डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड बेचने का कॉन्ट्रैक्ट दिया होगा. 

4/5

पैन नंबर भी हुआ लीक

pan number also leaked

लीक हुए डेटा में करीब 5 लाख ग्राहकों का पैन नंबर भी शामिल है. हालांकि अभी तक ये साफ नहीं हो पाया है कि 70 लाख यूजर्स का ये लीक डाटा सही है या नहीं. सिक्यॉरिटी रिसर्चर ने कुछ यूजर्स का डाटा क्रॉस-चेक भी किया, जिसमें अधिकतर जानकारी सही लिखी हुई थी. रजाहरिया ने कहा, 'मुझे लगता है कि किसी ने इस डाटा/लिंक को डार्क वेब पर बेच दिया और बाद में यह सार्वजनिक हो गया.

5/5

इन कंपनियों के डाटा लीक

Data leaked fo these companies

inc 42 की एक अन्य रिपोर्ट में बताया गया है कि डार्क वेब पर जो डेटा लीक हुआ है वह एक्सिस बैंक, भारत हैवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड (BHEL), केलॉग्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड और मैकेंजी एंड कंपनी के कुछ कर्मचारियों का है. रिपोर्ट के मुताबिक, इन कर्मचारियों की सालाना आय 7 लाख रुपये से लेकर 75 लाख रुपये तक है.