close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पाकिस्तानी कप्तान सरफराज का बड़बोलापन, कहा- हम बांग्लादेश के खिलाफ 500 रन ठोकेंगे

ऐसे समय में जब पाकिस्तान के सेमीफाइनल में जगह बनाने की संभावना कम दिख रही है, तब कप्तान सरफराज आशावादी बने हुए हैं.

पाकिस्तानी कप्तान सरफराज का बड़बोलापन, कहा- हम बांग्लादेश के खिलाफ 500 रन ठोकेंगे
अंतिम लीग मैच में पाकिस्तान आज बांग्लादेश के खिलाफ मैदान में उतरेगी. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: आईसीसी विश्व कप-2019 (World Cup 2019) के अपने अंतिम लीग मैच में पाकिस्तान आज बांग्लादेश के खिलाफ मैदान में उतरेगी. पाकिस्तान को अगर वर्ल्ड कप  के सेमीफाइनल में पहुंचना है तो उसे यहां लॉर्डस स्टेडियम में बांग्लादेश के साथ होने वाले मुकाबले के दौरान एक असंभव-सा दिखने वाला लक्ष्य हासिल करना होगा. ऐसे समय में जब पाकिस्तान के सेमीफाइनल में जगह बनाने की संभावना कम दिख रही है, तब कप्तान सरफराज अहमद (Sarfaraz Ahmed) आशावादी बने हुए हैं और उनका कहना है कि टीम बांग्लादेश के खिलाफ अपने आगामी मैच में 500 रन बनाने की कोशिश करेगी.

गुरुवार को आयोजित प्री-मैच प्रेस कॉन्फ्रेंस में सरफराज ने क्वालीफाई करने की शर्तों को ध्यान में रखते हुए कहा कि टीम कोशिश करेगी और मैच जीतेगी.

सरफराज ने आगे कहा, "हम बांग्लादेश के खिलाफ 500 रन बनाने की कोशिश करेंगे. हमें 500 रन बनाने होंगे और बांग्लादेश को 50 रन पर आउट करने की कोशिश करनी होगी. यह बहुत स्पष्ट है कि पाकिस्तान को सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए बांग्लादेश को 316 रनों से हराना होगा. हम मैच जीतने की कोशिश करेंगे.''

सर्वोच्च स्कोर 481 रन
यहां बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इंग्लैंड ने 481 रन बनाए थे. जो कि अब तक किसी टीम द्वारा प्राप्त किया गया सर्वोच्च स्कोर है. वनडे इतिहास की कोई भी टीम उस स्कोर से आगे नहीं बढ़ सकी है. वहीं पाकिस्तानी टीम भी अपने इतिहास में जिम्बाब्वे के खिलाफ सबसे ज्यादा 399 रन का स्कोर ही बना सकी है.

सेमीफाइनल में जाना मुश्किल
इंग्लैंड द्वारा न्यूजीलैंड को हराए जाने के बाद साल 1992 की चैंपियन पाकिस्तान के लिए सेमीफाइनल में जाना काफी मुश्किल हो गया है. वह आगे तभी जा सकता है, जब वह पहले बल्लेबाजी करे और 400 का स्कोर खड़ा करे और फिर बांग्लादेश को 84 रनों पर आउट कर दे.

टॉस हारते ही बाहर
समीकरण यह है कि अगर पाकिस्तान टॉस हार जाता है तो वह सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर हो जाएगा और अगर टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी लेता है तो उसे यह मैच 316 रनों से हर हाल में जीतना होगा. यह जीत का वह अंतर है, जो अब तक वनडे इतिहास में अब तक किसी भी टीम ने हासिल नहीं किया है.

1992 की तरह ही रहा PAK का सफर
इस विश्व कप में पाकिस्तान का अब तक का सफर 1992 की तरह ही रहा है. फर्क बस यह है कि उस साल पाकिस्तानी टीम नॉकआउट स्तर पर पहुंच गई थी लेकिन इस साल उसके रास्ते काफी कठिन हैं. इस बार पाकिस्तान अब तक खेले गए आठ मैचों में से नौ अंकों के साथ प्वॉइंट टेबल में पांचवें स्थान पर है.

इंग्लैंड ने बिगाड़ा खेल
भारत और ऑस्ट्रेलिया के हाथों मिली हार के बाद पाकिस्तानी टीम ने शानदार वापसी करते हुए दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड और अफगानिस्तान को हराया था और खुद को सेमीफाइनल की दौड़ में बनाए रखा था लेकिन इसके लिए उसे इंग्लैंड के मैच पर निर्भर रहना था. अगर इंग्लैंड की टीम अपने दोनों मैच हार जाती तो फिर पाकिस्तान का रास्ता साफ हो जाता.

बांग्लादेश दौड़ में नहीं
दूसरी ओर, बांग्लादेश की टीम ने इस विश्व कप में बेहतरीन प्रदर्शन किया है. यह टीम सेमीफाइनल की दौड़ में नहीं है लेकिन उसने अपने हरफनमौला खिलाड़ी शाकिब अल हसन के दम पर बेहतरीन प्रदर्शन कर अपने फैंस को खुशी मनाने का मौका दिया है. बांग्लादेश मौजूदा टूर्नामेंट से बाहर है, क्योंकि उनके आठ मैचों में केवल सात अंक हैं.