close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सचिन, सौरव और लक्ष्मण को BCCI की दो टूक, या तो कमेंट्री कर लें या IPL में भूमिका निभा लें

BCCI के लोकपाल ने उठाए सवाल उठाते हुए कहा, सचिन, सौरव और लक्ष्‍मण किस हैसियत से कर रहे कमेंट्री

सचिन, सौरव और लक्ष्मण को BCCI की दो टूक, या तो कमेंट्री कर लें या IPL में भूमिका निभा लें
सौरव गांगुली, वीवीएस लक्ष्मण और सचिन तेंदुलकर. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के लोकपाल डीके जैन ने सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar), सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) और वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) जैसे पूर्व क्रिकेटरों द्वारा आईसीसी वर्ल्ड कप (ICC Cricket World Cup 2019) में कमेंटेटर की भूमिका निभाए जाने पर सवाल खड़े किए हैं.

जैन के मुताबिक, ऐसे में जब ये खिलाड़ी इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में कई फ्रेंचाइजी टीमों के साथ पहले से जुड़े हुए हैं, विश्व कप में कमेंटेटर के तौर पर इनकी भूमिका कैसे स्वीकार्य हो सकती है. जैन की इस आपत्ति पर बीसीसीआई और प्रशासकों की समिति (COA) सकते में है.

आईएएनएस से बात करते हुए सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित सीओए के एक सदस्य ने कहा कि समिति जैन द्वारा उठाए गए सवालों का जवाब खोजने का प्रयास कर रही है.

सदस्य ने कहा, "हां, हम इस मामले पर विचार करेंगे और इसका हल निकालने की कोशिश करेंगे. यह सच है कि इसमें अधिक रोक-टोक दिखाई दे रही है."

ये आपत्ति जताई
जैन ने न सिर्फ आईपीएल में फ्रेंचाइजी टीमों के साथ जुड़े पूर्व खिलाड़ियों के कमेंटेटर बनने पर आपत्ति जताई है बल्कि उन्होंने यह भी कहा है कि जिन खिलाड़ियों ने अब तक संन्यास नहीं लिया है, वे भला कैसे टेलीविजन पर एक्सपर्ट की भूमिका अदा कर सकते हैं.

हरभजन और पार्थिव भी घेरे में
हरभजन सिंह और पार्थिव पटेल जैसे खिलाड़ी कमेंट्री कर रहे हैं, जबकि इन्होंने संन्यास नहीं लिया है. ये दोनों आईपीएल के बीते सीजन में भी खेले थे.

सिफारिशों का उल्लंघन
जैन ने कहा कि एक्सपर्ट के तौर पर ये खिलाड़ी लोढ़ा समिति की सिफारिशों का उल्लंघन कर रहे हैं क्योंकि इसमें साफ-साफ लिखा है कि एक खिलाड़ी को एक ही पद मिल सकता है और जबकि ये खिलाड़ी एक साथ विभिन्न पदों पर सक्रिय हैं.

(इनपुट-आईएएनएस)