close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

World Cup 2019: पाकिस्तान की बैटिंग-बॉलिंग नहीं, इस कमजोरी के लिए चिंतित हैं कोच आर्थर

इंग्लैंड ने हाल ही में पाकिस्तान को 5 मैचों की वनडे सीरीज में 4-0 से हराया है. 

World Cup 2019: पाकिस्तान की बैटिंग-बॉलिंग नहीं, इस कमजोरी के लिए चिंतित हैं कोच आर्थर
दक्षिण अफ्रीका के मिकी आर्थर 1980-90 के दशक में 110 फर्स्टक्लास और 150 लिस्ट ए मैच खेल चुके हैं. (फोटो: IANS)

लीड्स: कहां तो पाकिस्तान खुद को विश्व कप (World Cup 2019) जीतने के दावेदार में शुमार कर रहा था और कहां इंग्लैंड ने उसे धूल चटा दी. इंग्लैंड ने पाकिस्तान (Pakistan) को पांच मैचों की वनडे सीरीज में 4-0 से हराया. एक मैच रद्द हो गया. इस करारी हार के बाद पाकिस्तान के मुख्य कोच मिकी आर्थर (Mickey Arthur) ने स्वीकार किया है कि उनकी टीम गेंदबाजी और फील्डिंग में अच्छा नहीं कर पाई. पाकिस्तान को विश्व कप (ICC Cricket World Cup 2019)  में अपना पहला मैच 31 मई को वेस्टइंडीज के साथ खेलना है.

पाकिस्तान को रविवार को यहां खेले गए पांचवें और अंतिम वनडे मैच में इंग्लैंड के हाथों 54 रनों से हार का सामना करना पड़ा. क्रिकइंफो ने मिकी आर्थर के हवाले कहा, ‘टीम की फील्डिंग बहुत ही निराशाजनक रही है. दोनों टीमों के बीच काफी बड़ा अंतर था.’ दिलचस्प बात यह है कि इस सीरीज में खेले गए चारों वनडे मैचों में 300 से बड़े स्कोर बने. मेजबान इंग्लैंड ने दो मैचों में 340 या इससे बड़ा लक्ष्य हासिल कर मैच जीता. 

यह भी पढ़ें: World Cup 2019: स्टीव वॉ ने ऑस्ट्रेलिया नहीं, इस टीम को बताया सबसे बड़ा दावेदार

दक्षिण अफ्रीका के मिकी आर्थर ने कहा, ‘साउथैम्पटन और नॉटिंघम में आखिरी पांच ओवर में खेल किसी की भी तरफ जा सकता था. हमने अच्छी प्रतिद्वंद्विता की थी. एक जो सबसे बड़ा अंतर था, वो हमारी फील्डिंग थी और ये मेरे लिए असली चिंता की बात है.’ पाकिस्तान की टीम को साउथैम्पटन वनडे में 12 रन और नॉटिंघम में तीन विकेट से हार का सामना करना पड़ा था. 

पाकिस्तानी कोच अपने बल्लेबाजों के प्रदर्शन से संतुष्ट नजर आए. 51 साल के मिकी आर्थर ने कहा, ‘हमारी बल्लेबाजी ऊच्च स्तर पर पहुंची है. इससे ड्रेसिंग रूम में काफी आत्मविश्वास आया है. जब हम इंग्लैंड आए थे तो लोग कह रहे थे कि हम 280 वाली टीम हैं.’ आर्थर ने गेंदबाजों की भी सराहना की. दक्षिण अफ्रीका के मिकी आर्थर 1980-90 के दशक में 110 फर्स्टक्लास और 150 लिस्ट ए मैच खेल चुके हैं.