close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हाथरस: बच्चा चोरी होने के शक में लोगों ने तीन लोगों के साथ की मारपीट

सोशल मीडिया पर बच्चा चोर गिरोह द्वारा बच्चा चोरी किए जाने की वायरल हो रही अफवाओं का असर यूपी के हाथरस जिले में भी देखने को मिल रहा है. 

हाथरस: बच्चा चोरी होने के शक में लोगों ने तीन लोगों के साथ की मारपीट

हाथरस: सोशल मीडिया पर बच्चा चोर गिरोह द्वारा बच्चा चोरी किए जाने की वायरल हो रही अफवाओं का असर यूपी के हाथरस जिले में भी देखने को मिल रहा है. यहां बच्चा चोरी होने के शक में लोगों ने दो साधु वेशधारियों, एक महिला और एक युवक के साथ मारपीट की है. अलबत्ता पुलिस अधिकारी अफवाहों पर ध्यान न देने और जिले में कोई बच्चा चोर गैंग सक्रिय न होने की बात कह रहे हैं.

यूपी के हाथरस जिले में तीन वीडियो सामने आए हैं. बच्चा चोरी के शक में ग्रामीणों द्वारा की जा रही पिटाई के इन तीन वीडियो में पहला मामला हाथरस जंक्शन क्षेत्र के गांव लाढ़पुर का है, जहां ग्रामीणों ने दो साधु वेशधारियो को बच्चा चोरी करने के शक में पकड़कर पहले तो एक घर में बंधक बनाया फिर मारपीट करते हुए दोनों को पुलिस के हवाले कर दिया.

दूसरा मामला सादाबाद क्षेत्र के कुरसंडा गांव से सामने आया है. यहां राहगीरों और ग्रामीणों ने एक महिला को बच्चा चोरी के शक में पकड़कर बीच सड़क पर लात घूंसों से पीटा है. तीसरा मामला मामला सदर कोतवाली क्षेत्र के आगरा रोड से सामने आया यहां लोगो ने एक युवक को बच्चा चोरी के शक में पकड़कर पहले तो उसके साथ मारपीट की फिर उसे छोड़ दिया. जिले के पुलिस अधिकारी जिले में बच्चा चोर गैंग और गतिविधियों के सक्रिय होने से दो टूक मना कर रहे हैं. बाबजूद इसके इस प्रकार के मामले सामने आने पर उन्होंने अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की है. 

 

 

बच्चा चोर समझ महिला को पेड़ से बांधकर पीटा
गोंडा में मानवता को शर्मशार कर देने वाली घटना सामने आई है. यहां एक महिला को स्कूल की छुट्टी का समय पूछना भारी पड़ गया. महिला द्वारा पूछे गए इस सवाल पर लोगों में अफवाहों व शक का दौर ऐसा पनपा कि लोगों ने अपना आपा खो दिया. लोगों ने उससे बच्‍चा चोर समझ लिया. बच्चा चोरी के आरोप में नवाबगंज थाना क्षेत्र के रैहली गांव के ग्रामीणों ने उसे पेड़ से बांधकर जमकर पीटा. ग्रामीण महिला को तब तक पेड़ से बांधे रखे और उसे पीटते रहे जब तक वहां पुलिस नहीं पहुंची.