close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

44 प्रतिशत भारतीय अभिभावक विदेश में बच्चों की पढ़ाई की रखते हैं ख्‍वाहिश

एक अध्ययन के मुताबिक भारतीय अभिभावकों के लिये विदेश में बच्चों की पढ़ाई के लिये अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया पसंदीदा गंतव्य हैं.

44 प्रतिशत भारतीय अभिभावक विदेश में बच्चों की पढ़ाई की रखते हैं ख्‍वाहिश
उच्च शिक्षा के लिए अपने बच्चों को विदेश भेजने की इच्छा रखने वाले भारतीय अभिभावकों में 52 प्रतिशत के लिए अमेरिका पसंदीदा देश है.(फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: भारतीय अभिभावकों में लगभग 44 प्रतिशत अपने बच्चों को पढ़ाई के लिये विदेश भेजने की इच्छा रखते हैं और इसकी संभावनाओं को तलाशते हैं. एक अध्ययन के मुताबिक भारतीय अभिभावकों के लिये विदेश में बच्चों की पढ़ाई के लिये अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया पसंदीदा गंतव्य हैं.

एचएसबीसी की अध्ययन रपट के अनुसार उच्च शिक्षा के लिए अपने बच्चों को विदेश भेजने की इच्छा रखने वाले भारतीय अभिभावकों में 52 प्रतिशत के लिए अमेरिका पसंदीदा देश है. इसके बाद 46 प्रतिशत के लिये ऑस्ट्रेलिया और 44 प्रतिशत अभिभावकों को ब्रिटेन पसंद है.

इसके अलावा कनाडा, जर्मनी, सिंगापुर, न्यूजीलैंड, जापान, ऑस्ट्रिया और स्विट्जरलैंड भी भारतीय अभिभावकों के पसंदीदा देश हैं.

एचएसबीसी इंडिया में खुदरा बैंकिंग और संपत्ति प्रबंधन के प्रमुख रामकृष्णन एस. ने कहा, ‘‘भारत में अभिभावकों के बीच अपने बच्चों को पढ़ने के लिये विदेश भेजने की इच्छा रहती है. फिर भले वह अंतरराष्ट्रीय कामकाजी अनुभव लेने के लिए हो या अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों में जाकर भाषा कौशल सुधारने के लिए.’’

हालांकि सर्वेक्षण में सामने आया कि 42 प्रतिशत भारतीय माता-पिता के लिए विदेश में शिक्षा प्राप्त करने के लिए सबसे बड़ी चिंता उसकी लागत ज्यादा होना है. वहीं ब्रिटेन में 63 प्रतिशत, अमेरिका में 65 प्रतिशत और ऑस्ट्रेलिया में 64 प्रतिशत अभिभावकों के सामने भी यही चुनौती रहती है.

इस सर्वेक्षण में ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, चीन, फ्रांस, हांगकांग, भारत, इंडोनेशिया, मलेशिया, मेक्सिको, सिंगापुर, ताइवान, तुर्की, संयुक्त अरब अमीरात, ब्रिटेन और अमेरिका जैसे 15 देशों के 10,478 अभिभावकों और 1,507 विद्यार्थियों के उत्तरों का विश्लेषण किया गया है.

(इनपुट: एजेंसी भाषा से)