IIT धनबाद के शशांक मंगल ने GATE 2019 में किया टॉप, IES का है सपना

शशांक मंगल ने 1000 में 989 स्कोर किया है.

IIT धनबाद के शशांक मंगल ने GATE 2019 में किया टॉप, IES का है सपना
शशांक मंगल ने JEE एडवांस में 6214 रैंक हासिल किया था. (फोटो साभार शशांक मंगल फेसबुक)

नई दिल्ली: GATE 2019 (ग्रैजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग) के नतीजे आ चुके हैं. मध्य प्रदेश के मुरैना जिले के रहने वाले शशांक मंगल ने इस परीक्षा में टॉप किया है. उन्होंने 1000 में 989 स्कोर किया है. जानकारी के लिए बता दें कि GATE की परीक्षा 100 अंकों की होती है. लेकिन, स्कोर 1000 में निकाला जाता है जिसे निश्चित करने का अपना अलग तरीका होता है. शशांक मंगल IIT धनबाद के छात्र हैं. गेट परीक्षा में पास करने वाले छात्रों अगर नौकरी करना चाहते हैं कि PSU में उनकी नौकरी गेट स्कोर के आधार पर होती है.

GATE स्कोर के आधार पर छात्रों का सलेक्शन देश और विदेश की तमाम मल्टी नेशनल कंपनियों में होती है. अगर छात्र पढ़ाई करना चाहता है कि स्कोर के आधार पर उनका एडमिशन देश के IITs और अन्य इंजीनियरिंग कॉलेजों में होती है. गेट स्कोर की वैधता तीन सालों के लिए होती है. इस साल के टॉपर शशांक की  बात करें तो वे IIT धनबाद में इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहे हैं. JEE एडवांस में उन्होंने 6214 रैंक हासिल किया था.

कुपोषण खत्म करने में मदद करेगा यह एप, छात्रों को देश में पहला स्थान

शशांक का कहना है कि वे अपने देश की सेवा करना चाहते हैं. इसलिए, वो पहले PSU में नौकरी हासिल करेंगे और इंडियन इंजीनियरिंग सर्विसेस (IES) की तैयारी करेंगे. उन्होंने कहा कि अपने देश में इंजीनियरिंग के फील्ड में तेजी से विकास नहीं हो पा रहा है कि क्योंकि एकबार नौकरी पा लेने के बाद इंजीनियर्स इनोवेशन की दिशा में ज्यादा काम नहीं करते हैं. अपने सपने के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि वे चाहते हैं कि इंजीनियरिंग का इस्तेमाल कर देश की पेपर-पेन आधारित अर्थव्यवस्था को ऑटोमेशन की दुनिया में ले जाएं. शशांक ने बताया कि वे फिलहाल मशीन लर्निंग को लेकर एक प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं जो आखिरी चरण में है.