close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

  • 542/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    354बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    90कांग्रेस+

  • अन्य

    98अन्य

अपनी सीट खोजें

उडुपी-चिकमंगलूर

लोकसभा चुनाव 2019 के रण में जिन राज्‍यों में बीजेपी के पास अपना मैदान बचाने की चुनौती है, उनमें कर्नाटक भी एक है. कर्नाटक की उडुपी चिकमगलूर सीट पर अभी बीजेपी का कब्‍जा है. यहां पार्टी ने एक बार फिर से मौजूदा सांसद शोभा करंदलाजे पर दांव लगाया है. उनका मुकाबला कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की प्रत्‍याशी प्रमोद माधवराज से है. इस सीट से अब तक कांग्रेस लड़ती रही है, लेकिन इस बार गठबंधन के कारण ये जेडीएस के खाते में गई है. पिछले चुनाव में तो जेडीएस उम्‍मीदवार की जमानत भी जब्‍त हो गई थी.

मौजूदा चुनाव में बीजेपी और जेडीएस के अलावा शिवसेना ने भी अपना उम्‍मीदवार यहां पर उतारा है. यहां पर कुल 10 उम्‍मीदवार चुनाव मैदान में हैं. CPI-ML और BSP ने भी यहां से अपने उम्‍मीदवार उतारे हैं. विधानसभा चुनावों में जेडीएस और बीएसपी का गठबंधन था, लेकिन अब लोकसभा चुनावों में बीएसपी भी अपने उम्‍मीदवार उतार रही है.

2008 में बनी थी उडुपी-चिकमगलूर सीट
2008 में इस सीट को चिकमगलूर और उडुपी को मिलाकर बनाया गया था. 2009 में जब पहली बार चुनाव हुए तो इस पर बीजेपी के डीवी सदानंद गौड़ा ने कांग्रेस के के जयप्रकाश हेगड़े को 27 हजार वोट से हराया था. हालांकि जब 2012 में इस सीट पर उपचुनाव हुए तो के जयप्रकाश हेगड़े ने बीजेपी के सुनील कुमार को 45 हजार से वोट हराया था. तब सदानंद गौड़ा के राज्‍य का मुख्‍यमंत्री बनने के कारण ये सीट खाली हुई थी. 2014 के चुनाव में शोभा करंदलाजे ने कांग्रेस के जयप्रकाश हेगड़े को 1लाख 81 हजार वोट से हराया था.


असंतोष के बाद भी बीजेपी ने शोभा पर लगाया दांव
उडुपी और चिकमगलूर सीट पर बीजेपी ने एक बार फिर से शोभा करंदलाजे पर अपना दांव लगाया है. कहा जा रहा था कि राज्‍य स्‍तर पर उनके खिलाफ असंतोष है. लेकिन बीएस येदियुरप्‍पा के कहने पर पार्टी हाईकमान ने एक बार फिर से शोभा को अपना उम्‍मीदवार बनाया है.

जेडीएस का मजबूत गढ़ नहीं है ये सीट
इस लोकसभा सीट में चिकमगलूर, कापू, कारकल, कुंडापुरा, श्रंगेरी, तारिकेरे और उडुपी विधानसभा सीट आती हैं. ये सीट जेडीएस का गढ़ नहीं मानी जाती है. 2009 के चुनाव में तो जेडीएस का उम्‍मीदवार भी सामने नहीं था. 2012 के उपचुनाव में जेडीएस के उम्‍मीदवार को 72 हजार वोट मिले थे. 2014 के चुनाव में जेडीएस उम्‍मीवार को मात्र 14 हजार वोट मिले थे और उनकी जमानत जब्‍त हो गई थी. ऐसे में इस चुनाव में जेडीएस के लिए टक्‍कर देना बड़ी चुनौती होगी.

और पढ़े

और पढ़े

उम्मीदवार पार्टी वर्तमान स्थिति कुल वोट
शोभा करंदलाजा बीजेपी

जीते

718916
प्रमोद माधवराज जेडीएस

हारे

369317
पी परमेश्‍वर बीएसपी

हारे

15947
अमृत शेनॉय पी निर्दलीय

हारे

7981
नोटा नोटा

हारे

7510
पी गौतम प्रभु शिवसेना

हारे

7431
अब्‍दुल रहमान निर्दलीय

हारे

6017
केसी प्रकाश निर्दलीय

हारे

3543
एमके दयानंद पीएसएस

हारे

3539
मग्‍गालमक्‍की गणेश निर्दलीय

हारे

3526
सुरेश कुंदर यूपीपी

हारे

3488
कामरेड विजय कुमार सीपीआई (एमएल) (आर)

हारे

2216
शेखर हवांजे आरपीआई (के)

हारे

1581

उडुपी-चिकमंगलूर खबरें

चुनावनामा: 'छोटी बेटी के शहर' से इंदिरा को मिला था राजनैतिक पुनर्जीवन

चुनावनामा: 'छोटी बेटी के शहर' से इंदिरा को मिला था राजनैतिक पुनर्जीवन

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok sabha elections 2019) में चर्चा का केंद्र बनी इंदिरा गांधी का राजनैतिक जीवन खात्‍मे की कगार पर आ खड़ा हुआ था. इस दौरान में, इंदिरा गांधी को कर्नाटक के एक छोटे से शहर से राजनैतिक पुनर्जीवन मिला था.

Apr 24, 2019, 03:54 PM IST
VIDEO: मंदिर के अंदर थी पूर्व पीएम की फैमिली, पुलिसवाले ने बुजुर्ग को घसीटकर बाहर निकाला

VIDEO: मंदिर के अंदर थी पूर्व पीएम की फैमिली, पुलिसवाले ने बुजुर्ग को घसीटकर बाहर निकाला

न्‍यूज एजेंसी ANI के अनुसार, यह घटना श्रृंगेरी शरादाम्बा मंदिर में घटित हुई. जिस वक्‍त यह वाक्‍या घटित हुआ तब पूर्व पीएम देवगौड़ा का परिवार मंदिर के अंदर था.

Jan 16, 2018, 03:21 PM IST