Drugs Case: बस एक बयान से बढ़ीं Arjun Rampal की मुश्किलें, हो सकते हैं गिरफ्तार
X

Drugs Case: बस एक बयान से बढ़ीं Arjun Rampal की मुश्किलें, हो सकते हैं गिरफ्तार

बीते दिनों से NCB अर्जुन रामपाल (Arjun Rampal) की जांच में जुटी है, ड्रग्स मामले में आज वह NCB के सामने दोबारा पेश हुए, लेकिन अब एक डॉक्टर के बयान के बाद उनकी मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं. 

Drugs Case: बस एक बयान से बढ़ीं Arjun Rampal की मुश्किलें, हो सकते हैं गिरफ्तार

नई दिल्ली: दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के मामले के बाद सामने आया बॉलीवुड का ड्रग्स कनेक्शन अब भी कई राज छिपाए बैठा है. बीते लंबे समय से NCB इस बॉलीवुड ड्रग्स केस के चलते अर्जुन रामपाल (Arjun Rampal) की जांच में जुटी है, ड्रग्स मामले में आज 21 दिसंबर को वह NCB के सामने दोबारा पेश हुए, लेकिन अब दिल्ली के एक डॉक्टर के बयान के बाद उनकी मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं. इस बयान के बाद अर्जुन रामपाल (Arjun Rampal) की गिरफ्तारी की होने का भी खतरा बढ़ता नजर आ रहा है. 

आजतक की खबर के अनुसार आज अर्जुन रामपाल (Arjun Rampal) से ड्रग्स मामले में कुछ सवाल किए जाने हैं. इस मामले में NCB ने दिल्ली के एक डॉक्टर का भी बयान दर्ज किया है. एनसीबी ने इस डॉक्टर का बयान अदालत में 164 के तहत मजिस्ट्रेट के सामने भी करवा लिया है. 

खबर के अनुसार डॉक्टर ने कहा है, 'यह मामला अभी न्यायालय में चल रहा है, इसलिए उससे जुड़ी डिटेल मैं आप से शेयर नहीं कर सकता. लेकिन जो भी जरूरी बातें हैं मैंने अपने बयान के जरिए NCB से कही हैं. इसके साथ ही मैंने मजिस्ट्रेट के सामने अपना बयान दे दिया है. मैं एनसीबी को सहयोग करूंगा.'

सूत्रों की मानें तो बीते दिनों इस मामले में NCB ने मुंबई के भी एक डॉक्टर का बयान लिया है. वहीं एक यह भी खबर है कि अर्जुन रामपाल के एक करीबी ने दिल्ली एक डॉक्टर से बैक डेट में प्रिस्क्रिप्शन लिखवाए जिसके चलते NCB को धोखे में रखकर जांच से बचा जा सके.

इस सूत्र के अनुसार जिस दवा का प्रिस्क्रिप्शन अर्जुन रामपाल के दिल्ली में अपने करीबी से लिखवाया था वही प्रिस्क्रिप्शन उन्होंने NCB के सामने रखा था. इस पर जब NCB को शक हुआ तो डॉक्टर से पूछताछ की गई और फिर बयान रिकॉर्ड किया गया है.

आपको बता दें कि अर्जुन रामपाल के घर जब NCB ने छापा मारा था उस दौरान वहां से कुछ अवैध मेडिसिन बरामद हुई थीं, ये दवाएं NDPS एक्ट में तहत आती हैं. 

एंटरटेनमेंट की और खबरें पढ़ें

Trending news