close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

FILM REVIEW: क्रिकेट और इश्क के बीच अंधविश्वास का तड़का है 'द जोया फैक्टर'

अभिषेक शर्मा (Abhishek Sharma) द्वारा निर्देशित फिल्म 'द जोया फैक्टर (The Zoya Factor)' में सोनम कपूर (Sonam Kapoor) के अलावा दुलकर सलमान (Dulquer Salmaan), अंगद बेदी (Angad Bedi) और संजय कपूर (Sanjay Skpoor) भी अहम भूमिकाओं में हैं. 

FILM REVIEW: क्रिकेट और इश्क के बीच अंधविश्वास का तड़का है 'द जोया फैक्टर'
फिल्म 'द जोया फैक्टर' आज (20 सितंबर) सिनेमाघरों में रिलीज हो चुकी है (फिल्म पोस्टर)

नई दिल्ली: बॉलीवुड एक्ट्रेस सोनम कपूर (Sonam Kapoor) की अपनी मोस्ट अवेटेड फिल्म 'द जोया फैक्टर (The Zoya Factor)' आज (20 सितंबर) सिनेमाघरों में रिलीज हो चुकी है. कुछ महीने पहले सोनम कपूर अचानक से सुर्खियों में छा गई थीं. वजह थी अचानक से उनका सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर खुद का नाम बदल लेना. सोनम के अहूजा ने अपना नाम जोया सिंह सोलंकी लिखकर सबको चौंका दिया था. अब इस किरदार को पर्दे पर देखने का वक्त आ गया है. इस फिल्म की कहानी लेखिका अनुजा चौहान के एक फिक्शन पर आधारित है. 

अभिषेक शर्मा (Abhishek Sharma) द्वारा निर्देशित फिल्म 'द जोया फैक्टर (The Zoya Factor)' में सोनम कपूर (Sonam Kapoor) के अलावा दुलकर सलमान (Dulquer Salmaan), अंगद बेदी (Angad Bedi) और संजय कपूर (Sanjay Skpoor) भी अहम भूमिकाओं में हैं. फिल्म में सोनम कपूर 'जोया', दुलकर सलमान 'निखिल खोडा' और अंगद बेदी 'रोबिन' नाम के किरदार को निभा रहे हैं. यह एक राजपूत लड़की 'जोया' की कहानी है, हिंदू लड़की के मुस्लिम नाम वाली यह कहानी कॉमेडी, इमोशन और रोमांस से भरपूर है. दरअसल, जोया का परिवार क्रिकेटप्रेमी है और 1983 को जन्मी जोया को घरवालो लकी चार्म मानते हैं क्योंकि इस साल टीम इंडिया ने पहला वर्ल्ड कप का खिताब अपने नाम किया था.

परिवार वालों को लगता है कि टीम इंडिया के वर्ल्ड कप जीतने में जोया की पैदाइश का हाथ है. जोया के बड़े होते तक उसका लकी चार्म हमेशा उसके साथ होता है और उसकी डूबती नैया को हर बार पार भी कराता रहता है. जोया जब बड़ी हो जाती है तो वह एक ऐड एजेंसी में जूनियर कॉपी राइटर के पोस्ट पर काम करती है. इसी बीच कंपनी की तरफ से उसे टीम इंडिया का फोटोशूट के लिए भेजा जाता है. वहीं जोया की मुलाकात टीम के कैप्टन निखिल खोडा से होती है और पहली नजर में ही दोनों एक दूसरे से काफी एट्रेक्ट हो जाते हैं. 

उसके बाद अगले दिन टीम इंडिया के साथ नाश्ता करते हुए जब जोया सभी को यह बताती है कि उसके घरवाले क्रिकेट के लिए उसे लकी चार्म मानते हैं, तो टीम के कई खिलाड़ी इस बात से प्रभावित नजर आते हैं. उसी दिन जब टीम इंडिया अजीबोगरीब तरीके से मैच जीत जाती है, तो टीम का यह भरोसा पक्का हो जाता है कि जोया क्रिकेट के मामले में लकी है, लेकिन निखिल इन सब चीजों को नहीं मानता है और उसे खिलाड़ियों की मेहनत और प्रतिभा पर विश्वास है. इसक बाद इंडियन क्रिकेट बोर्ड जोया को भारतीय क्रिकेट टीम का लकी मस्कट बनने का प्रस्ताव देता है, ताकि वे वर्ल्ड कप को हासिल कर सकें. लेकिन, जोया तो पहले इसे नकार देती है फिर बाद में वह कॉन्ट्रैक्ट पर साइन कर देती है. अब आपको थिएटर जाकर देखना होगा कि क्या वर्ल्ड कप में जोया का लकी चार्म काम आता है या नहीं?     

फिल्म में सभी ने अपने-अपने किरदारों के साथ इंसाफ किया है. यानी सभी का अभिनय आपको बेहद पसंद आने वाला है. फिल्म का फ्लो भी अच्छा है, जिससे आप बोर नहीं होते हैं. बता दें कि सोनम कपूर हाल ही में फिल्म 'एक लड़की को देखा तो ऐसा लगा' में नजर आईं थीं. जिसमें वह पहली बार अपने पिता अनिल कपूर के साथ स्क्रीन शेयर कर रही थीं. इस फिल्म में राजकुमार राव और जूही चावला भी काफी महत्वपूर्ण किरदारों में नजर आए थे. फिल्म का कंटेंट काफी चर्चा में था लेकिन बॉक्स ऑफिस पर फिल्म कुछ खास कारनामा नहीं कर सकी. अब देखना होगा कि सोनम कपूर की फिल्म 'द जोया फैक्टर' बॉक्स ऑफिस पर क्या करिश्मा करती है.

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें