Birthday Special रजनीकांत: पहले किया कंडेक्टर का काम, अब एक फिल्म की है इतनी फीस!
topStorieshindi

Birthday Special रजनीकांत: पहले किया कंडेक्टर का काम, अब एक फिल्म की है इतनी फीस!

बॉलीवुड से लेकर टॉलीवुड तक अपना स्टारडम कायम करने वाले, अपने फैंस के चहेते 'थलाइवा' के बारे में ये बातें नहीं जातने होंगे आप...

Birthday Special रजनीकांत: पहले किया कंडेक्टर का काम, अब एक फिल्म की है इतनी फीस!

नई दिल्ली: बॉलीवुड से लेकर टॉलीवुड तक अपना स्टारडम कायम करने वाले, अपने फैंस के चहेते 'थलाइवा' यानी रजनीकांत (Rajinikanth) हर बार अपनी फिल्मों ने नए-नए रिकॉड्स कायम करते हैं. रजनीकांत (Rajinikanth) फिल्मों के रोल के अलावा भी लोगों के दिलों पर राज करते हैं. आज रजनीकांत अपना 69वां जन्मदिन मना रहे हैं. इस मौके पर जानते हैं उनके जीवन के सफर पर कुछ खास बातें...

रजनीकांत को उनके फैन्स भगवान मानते हैं, लेकिन इस मुकाम तक पहुंचने के लिए रजनीकांत को काफी संघर्ष करना पड़ा. रजनीकांत का असली नाम शिवाजी राव गायकवाड़ है. तमिल और हिन्दी फिल्मों में दमदार एक्टिंग कर रजनीकांत ने करोड़ों प्रशंसक बना लिए हैं. एक समय में कंडेक्टर का काम करने वाले रजनीकांत एशिया के सबसे ज्यादा फीस लेने वाले अभिनेताओं में से एक हैं. 

Happy Birthday रजनीकांत: बस कंडक्टर से सुपरस्टार थलाइवा तक

कहा जाता है कि रजनीकांत ने फिल्म 'कबाली' के लिए 40 से 60 करोड़ रुपये चार्ज किए थे. वहीं पिछले साल रिलीज हुई फिल्म 2.0 के लिए भी रजनीकांत ने मोटी रकम वसूली थी. उन्होंने बीते साल रिलीज हुई अपनी फिल्म '2.0' के लिए रजनीकांत ने करीब 80 करोड़ फीस ली थी. 

आज उनके जन्मदिन पर बीती रात से ही #HappyBirthdaySuperstar, #HappyBirthdayYuvi, #HBDThalaivarSuperstarRAJINI, #HBDSuperstarRajinikanth, #HappyBirthdayRajinikanth ट्विटर पर वर्ल्ड वाइड ट्रेंड कर रहे हैं.

रजनीकांत को साल 2000 में भारत सरकार की तरफ से पद्म भूषण और पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था. रजनीकांत का जन्म 12 दिसम्बर 1950 को बेंगलुरु में हुआ था. उन्होंने साल 1975 में फिल्म 'अपूर्व रागंगल' से अपने करियर की शुरुआत की. इसके बाद उन्होंने 'अंधा कानून', 'इंसाफ कौन करेगा', 'कबाली' और 'शिवाजी द बॉस' जैसी कई दमदार फिल्मों में अहम भूमिका निभाई. 

 

घर चलाने के लिए किया यह काम 
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार रजनीकांत का जीवन संघर्ष से भरा रहा. वह चार भाई-बहनों में रजनीकांत सबसे छोटे हैं. बचपन में ही उनकी मां का निधन हो गया था. मां के निधन के बाद रजनीकांत के घर की हालत अच्छी नहीं थी, इसलिए उन्हें कई छोटे-मोटे काम करने पड़े. उनके लिए घर चलाना इतना आसान नहीं था. रजनीकांत ने घर चलाने के लिए बस कंडक्टर का काम किया.  

IFFI 2019: रजनीकांत को 'आइकन ऑफ गोल्डन जुबली अवॉर्ड' से किया जाएगा सम्मानित

100 फिल्में 33 साल पहले ही 
1985 में सुपरस्टार रजनीकांत ने 100 फिल्में पूरी कीं. 'श्री राघवेंद्र' रजनीकांत की 100वीं फिल्म थी और इसमें उन्होंने हिंदू संत राघवेंद्र स्वामी का रोल किया था. 

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें

Trending news