लिजेंडरी संगीतकार खय्याम ने नहीं मनाया अपना जन्मदिन, शहीदों के परिवारों को डोनेट किए 5 लाख रुपये

 खय्याम ने कहा कि पुलवामा में जो कुछ हुआ है, उससे मैं बहुत दुखी महसूस कर रहा हूं, इसलिए मुझे अपना जन्मदिन मनाने का मन नहीं हुआ. 

लिजेंडरी संगीतकार खय्याम ने नहीं मनाया अपना जन्मदिन, शहीदों के परिवारों को डोनेट किए 5 लाख रुपये
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली : दिग्गज संगीतकार खय्याम इस बार अपना जन्मदिन नहीं मना रहे हैं. वह 92 वर्ष के हो गए हैं। उन्होंने बताया कि उन्होंने पुलवामा आतंकवादी हमले के शहीदों के परिवारों की सहायता के लिए 500,000 रुपये का योगदान दिया है. खय्याम सोमवार को 92 वर्ष के हो गए. 

बिग उर्दू अवार्डस द्वारा अपने अवास पर सम्मानित किए गए खय्याम ने कहा कि पुलवामा में जो कुछ हुआ है, उससे मैं बहुत दुखी महसूस कर रहा हूं, इसलिए मुझे अपना जन्मदिन मनाने का मन नहीं हुआ. हमले में जिन्होंने अपने परिवार के सदस्य को खोया है, उनके प्रति मेरी गहरी संवेदना है. उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि भारत सरकार इन मुद्दों का हल निकालेगी. हमने प्रधानमंत्री राहत कोष में 500,000 रुपये दान करने का फैसला किया है और हम शहीदों के परिवारों का समर्थन करने के लिए अपने ट्रस्ट के माध्यम से अधिक धनराशि दान करने का प्रयास कर रहे हैं. 

सलमान खान का ऐलान, फिल्म 'नोटबुक' की टीम देगी शहीदों के परिवार को 22 लाख की मदद

खय्याम 'कभी कभी', 'उमराव जान', 'त्रिशूल', 'नूरी' और 'बाजार' जैसी सफल फिल्मों का संगीत तैयार कर चुके हैं. अपने जन्मदिन पर खय्याम ने कहा कि मेरे पास उन लोगों का आभार व्यक्त करने के लिए शब्द नहीं है, जो मेरे जन्मदिन पर शुभकामनाएं देने के लिए मेरे घर आए. मैं भगवान, दर्शकों और फिल्म-उद्योग के उन लोगों का शुक्रगुजार हूं, जिन्होंने मेरी यात्रा में मुझे प्यार और समर्थन दिया. 

टीम 'टोटल धमाल' का फैसला, पुलवामा में शहीद हुए सैनिक परिवारों को 50 लाख की मदद

दिग्गज गायिका लता मंगेशकर ने खय्याम को फोन कर उनके जन्मदिन की बधाई दी. संगीतकार ने कहा कि वह उनका एक मां की तरह सम्मान करते हैं. 

(इनपुट : IANS)

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें