लिंगराज मंदिर मामला: भुवनेश्‍वर के पुलिस कमिश्‍नर ने कहा- नहीं होगा रवीना टंडन पर कोई एक्‍शन

रवीना ने अपने बयान में कहा है, 'यहां कोई विज्ञापन या एजेंसी नहीं थी. वहां सब स्‍थानीय लोग, म‍ंदिर के ही सदस्‍य और कुछ मीडिया के लोग थे जो अपने मोबाइल फोन पर शूटिंग कर रहे थे और सेल्‍फी ले रहे थे.

लिंगराज मंदिर मामला: भुवनेश्‍वर के पुलिस कमिश्‍नर ने कहा- नहीं होगा रवीना टंडन पर कोई एक्‍शन
रवीना टंडन का इस मंदिर में बना वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. (फोटो साभार बॉलीवुड लाइफ.कॉम)

नई दिल्‍ली: बॉलीवुड एक्‍ट्रेस रवीना टंडन के खिलाफ भुवनेश्‍वर के एक मंदिर में 'नो कैमरा जोन' में फोटोग्राफी करने के मामल में एफआईआर दर्ज हुई थी. लेकिन अब पुसिल ने इस मामले पर कोई भी कार्रवाई करने से मना कर दिया है. भुवनेश्‍वर के पुलिस कमिश्‍नर ने इस मामले पर कहा है कि वह इस मामले में रवीना टंडन या किसी भी व्‍यक्ति पर कोई कार्रवाई नहीं करेंगे. खबर थी कि  रवीना टंडन भुवनेश्‍वर के लिंगराज मंदिर में एक विज्ञापन की शूटिंग कर रही थीं. हालांकि बाद में यह सामने आया कि रवीना यहां किसी विज्ञापन की शूटिंग नहीं कर रही थीं, वह यहां सिर्फ भुवनेश्‍वर की गर्मी और उसमें सावधान रहने पर बात कर रही थीं, जिसे लोगों ने अपने मोबाइल के कैमरे पर शूट किया.

न्‍यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार भुवनेश्‍वर के पुसिल कमिश्‍नर ने कहा, 'शिवरात्रि के दौरान लिंगराज मंदिर में कई लोग आते हैं. उन्‍हें वहां फोटो लेते और वीडियो बनाते हुए देखा गया. ऐसे में, भले ही हमें मंदिर प्रशासन से शिकायत मिली है, लेकिन हम रवीना टंडन या किसी भी व्‍यक्ति के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर सकते.'

वहीं रवीना टंडन ने इस मामले पर अपनी सफाई देते हुए कहा था कि उन्‍हें यह जानकारी नहीं थीं कि मंदिर के इस हिस्‍से में फोन ले जाना मना है. रवीना टंडन भुवनेश्‍वर के लिंगराज मंदिर में इस रविवार को गई थीं. ऐसे में रवीना का एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें वह ब्‍यूटी टिप्‍स देती नजर आ रही हैं. रवीना ने अपने बयान में कहा है, 'यहां कोई विज्ञापन या एजेंसी नहीं थी. वहां सब स्‍थानीय लोग, म‍ंदिर के ही सदस्‍य और कुछ मीडिया के लोग थे जो अपने मोबाइल फोन पर शूटिंग कर रहे थे और सेल्‍फी ले रहे थे. मुझे नहीं पता था कि फोन प्रतिबंधित है और स्‍थानीय अधिकारियों ने भी इसके बारे में हमें नहीं बताया था.'

'नो कैमरा जोन' में शूटिंग करने के चलते रवीना टंडन पर FIR, बोलीं -'मुझे नहीं पता था'

बता दें कि सिर्फ मंदिर के कर्मचारी ही मोबाइन भीतर लेकर जा सकते हैं. दरअसल यह पूरा मामला मंदिर की सुरक्षा से जोड़कर देखा जा रहा है. राजीव लोचन ने कहा कि इस घटना ने लोगों की भावनाओं को भी आहत किया है

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें