क्या हमें सच में कोरोना की वैक्सीन चाहिए? वैज्ञानिकों का दावा इसकी जरूरत ही नहीं
X

क्या हमें सच में कोरोना की वैक्सीन चाहिए? वैज्ञानिकों का दावा इसकी जरूरत ही नहीं

पूरी दुनिया में इस COVID19 से मरने वाले पहले से ही किसी न किसी बीमारी से संक्रमित पाए गए हैं. उनकी मौत में कोरोना तत्कालिक कारण हो सकता है लेकिन एकमात्र वजह नहीं.

क्या हमें सच में कोरोना की वैक्सीन चाहिए? वैज्ञानिकों का दावा इसकी जरूरत ही नहीं

नई दिल्ली: पूरी दुनिया में कोरोना वायरस महामारी ने मौत का तांड़व मचा रखा है. पूरी दुनिया के वैज्ञानिक और दवा कंपनियां इस एक बीमारी की दवा तैयार करने के लिए दिन-रात मेहनत कर रहे हैं. लेकिन इस बीच ब्रिटेन के एक बड़े वैज्ञानिक ने दावा किया है कि लोगों को असल में कोरोना वायरस से लड़ने के लिए किसी टीके की जरूरत ही पड़े. लोग बिना वैक्सीन भी इस वायरस से बच रहे हैं.

हर्ड इम्युनिटी ही बचा रही वायरस से
इंग्लैंड की प्रो. सुनेत्रा गुप्ता ने दावा किया है कि कोरोना वायरस के टीके की जरूरत न पड़े. जब से कोरोना वायरस फैला है कई लोगों को जान गई है. लेकिन ज्यादातर लोगों में इस वायरस से लड़ने के लिए हर्ड इम्युनिटी पैदा हो गई है. जिसकी वजह से कोरोना वायरस खुद ब खुद खत्म हो जाता है. पूरी दुनिया में इस वायरस से मरने वाले पहले से ही किसी न किसी बीमारी से संक्रमित पाए गए हैं. उनकी मौत में कोरोना तात्कालिक कारण हो सकता है लेकिन एकमात्र वजह नहीं.

प्रो. गुप्ता ने आगे बताया कि दरअसल दुनिया में कोरोना वायरस के लिए किसी वैक्सीन की जरूरत ही नहीं है. लोग इस वायरस को खुद ही मात दे रहे हैं. ऐसा भी हो सकता है कि फ्लू की ही तरह यह महामारी भी अपने आप खत्म हो जाए और इसके लिए वैक्सीन की जरूरत न पड़े. वैक्सीन कितनी कारगर साबित होगी, इस पर कई तरह के शोध हो रहे हैं. लेकिन यह भी हो सकता है कि कोविड-19 महामारी भी फ्लू की ही तरह एक संक्रमण हो और इसके लिए किसी खास वैक्सीन की जरूरत न हो.

ये भी पढ़ें: देश में अबतक 1 करोड़ कोरोना सैंपल की हुई जांच, ICMR ने दिया ये बयान

उल्लेखनीय है कि अब तक दुनियाभर में पांच लाख से ज्यादा लोग इस जानलेवा वायरस की वजह से दम तोड़ चुके हैं. दुनियाभर में लगभग 1 करोड़ से ज्यादा लोग कोरोना वायरस पॉजिटिव हो चुके हैं. 

 

Trending news