राज्यसभा चुनाव से पहले गुजरात कांग्रेस के 62 विधायक रिसॉर्ट में कैद, कल होगी वोटिंग

गुजरात विधानसभा के विधायकों को पालनपुर स्थित बालाराम रिसॉर्ट से लेकर बाड़े बंदी की तस्वीरें भी गुजरात कांग्रेस की कहानी को बयां कर रही हैं. 

राज्यसभा चुनाव से पहले गुजरात कांग्रेस के 62 विधायक रिसॉर्ट में कैद, कल होगी वोटिंग
रिसॉर्ट में कैद कांग्रेस के 62 विधायक.

बनासकांठा : गुजरात के बनासकांठा स्थित बालाराम रिसॉर्ट में गुजरात विधानसभा के 62 विधायक इन दिनों सपरिवार प्रवास कर रहे हैं. वजह है कल यानी शुक्रवार को होने वाला राज्यसभा चुनाव. ये सभी विधायक कांग्रेस पार्टी के हैं, जो मतदान की कारगर रणनीति बना रहे हैं. लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी की करारी हार के बाद पूरी पार्टी फूंक-फूंक कर कदम रखना चाह रही है.

गुजरात विधानसभा के विधायकों को पालनपुर स्थित बालाराम रिसॉर्ट से लेकर बाड़े बंदी की तस्वीरें भी गुजरात कांग्रेस की कहानी को बयां कर रही हैं. बाला राम में विधायकों का भगवान राम का दर्शन कांग्रेस पार्टी के लिए बदलते समय की दरकार है.

बीते एक दशक से कांग्रेस पार्टी अपने आलोचकों के निशाने पर रही कि पार्टी के भीतर लोकतांत्रिक प्रक्रिया नहीं है, बल्कि वंशवाद वाली पार्टी बनकर रह गई है. समय-समय पर यह भी कहा जाता है कि कांग्रेसी विचारधारा के नाम पर सिर्फ गांधी परिवार की ही चलती है. यही वजह है कि अब पार्टी के विधायक भी मंदिर-मंदिर राम-राम कर अपनी विजयश्री की कामना करते हुए नजर आ रहे हैं.

दुआओं का लाभ कांग्रेस पार्टी को कितना मिलेगा यह तो शुक्रवार को होने वाले राज्यसभा चुनाव में पता चलेगा, लेकिन इसके बावजूद प्रदेश से लेकर राष्ट्रीय स्तर पर कांग्रेस पार्टी को अब आम आदमी के सुख-दुख में साथ जुड़ने की आवश्यकता है. 

ऐसे में बड़ा सवाल है कि क्या कांग्रेस इन सब पर अपना ध्यान केंद्रित कर पाएगी या अभी भी दिल्ली के पार्टी दफ्तर से ही ताकतवर नेता अपने इर्द-गिर्द के ताने-बाने से ही पार्टी को गर्त में गोते लगवाते रहेंगे.