close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

परासकोलः कोयला खदान में 15 घंटों से फंसे थे 70 मजदूर, सुरक्षित बाहर निकाले गए

ईसीएल प्रबंधन द्वारा यहां फिर से स्टीम के माध्यम से लिफ्ट को चालू कराया गया, जिसके बाद 15 घंटे से अधिक समय तक कोयला खदान में फंसे रहे सभी मजदूरों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है.

परासकोलः कोयला खदान में 15 घंटों से फंसे थे 70 मजदूर, सुरक्षित बाहर निकाले गए
(फाइल फोटो)

आसनसोलः पश्चिम बंगाल के आसनसोल शहर स्थित ईस्ट परासकोल कोलियरी खदान के अंदर पिछले 15 घण्टे से फसे 70 से ज्यादा मजदूरों को आखिरकार सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है. जानकारी के अनुसार यह सभी मजदूर शनिवार रात करीब 11:00 बजे कोयला खदान में काम करने के लिए उतरे थे और रविवार की सुबह 7:00 बजे ड्यूटी समाप्त होने के बाद उन्हें बाहर आना था, लेकिन स्टीम से चलने वाले और बिजली से चलने वाले दोनों लिफ्टों के खराब होने की वजह से यह मजदूर ड्यूटी समाप्त होने के बाद भी अंदर ही फंसे रह गए. 

इस तरह से मजदूरों के अंदर फंसे रहने के बाद जहां मजदूरों में भय और आतंक का माहौल था. वहीं उनके परिजनों में खांसी चिंता बनी हुई थी. आखिरकार ईसीएल प्रबंधन द्वारा यहां फिर से स्टीम के माध्यम से लिफ्ट को चालू कराया गया, जिसके बाद 15 घंटे से अधिक समय तक कोयला खदान में फंसे रहे सभी मजदूरों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है. खदान के अंदर फसे मजदूर इस घटना के आरोपी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं.

देखें LIVE TV

दिल्‍ली : वायु प्रदूषण के कारण कम हुई विजिबिलिटी, दिल्ली एयरपोर्ट से 32 फ्लाइट्स डायवर्ट

कोयला खदान में श्रमिकों के फंसने पर स्थानीय लोगों का कहना है कि प्रबंधन और स्थानीय सेफ्टी विभाग से जुड़े अधिकारियों की लापरवाही के चलते श्रमिक खदान में फंसे थे. प्रबंधन को इस मामले की जांच करना चाहिए और दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए.  वहीं घटना के बाद से श्रमिकों में कंपनी के खिलाफ रोष है.