close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विधानसभा चुनाव से पहले अजित पवार ने दिया इस्तीफा, कारणों को लेकर सस्पेंस बरकरार

 एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार के भतीजे और महाराष्ट्र के पूर्व उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने विधायक से इस्तीफा दे दिया है. 

विधानसभा चुनाव से पहले अजित पवार ने दिया इस्तीफा, कारणों को लेकर सस्पेंस बरकरार
अजित पवार ने अपना इस्तीफा महाराष्ट्र विधानसभा के अध्यक्ष हरिभाऊ बागड़े को भेजा है.

मुंबई: एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार के भतीजे और महाराष्ट्र के पूर्व उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने विधायक से इस्तीफा दे दिया है. अजित पवार ने अपना इस्तीफा महाराष्ट्र विधानसभा के अध्यक्ष हरिभाऊ बागड़े को भेजा है.अजित पवार का इस्तीफा मंज़ूर भी हो गया है.हालांकि अजित पवार ने इस्तीफा देने की वजह को लेकर खुलासा नहीं किया है. लेकिन इसे लेकर सियासी गलियारों मे अटकलें तेज हो गई है.

गौरतलब है कि अजित पवार ने इस्तीफा तब दिया है जबकि महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव का ऐलान हो चुका है.ऐसे में सवाल उठता है कि क्या अजित पवार अपने चाचा शरद पवार के खिलाफ बगावत का झंडा बुलंद करना चाहते हैं.. या फिर अजित पवार ने बैंक घोटाले की वजह से इस्तीफा दिया है.

25000 करोड़ रुपए महाराष्ट्र स्टेट को-आपरेटिव बैंक में 70 से ज्यादा जिन लोगों का नाम है उनमें अजित पवार शामिल है.इस मामले में ईडी ने शरद पवार के खिलाफ भी शिकायत दर्ज की है .हालांकि शरद पवार पहले ही कह चुके हैं कि वो कभी बैंक में डायरेक्टर या किसी पद पर नहीं रहे हैं.जबकि अजित पवार की बात की जाए तो वो बैंक में डायरेक्टर के पद पर रहे थे.ऐसे में हो सकता है अजित पवार ने इसी के चलते इस्तीफा दिया हो. इससे पहले सिंचाई घोटाले में अजित पवार का नाम आने से उन्हें महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री का पद छोड़ना पड़ा था.

LIVE टीवी:

शरद पवार की विरासत को लेकर उनके परिवार में लड़ाई भी पुरानी है. शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले और भतीजे अजित पवार के बीच में विरासत की लड़ाई नई बात नहीं है. लेकिन फिलहाल सबसे बड़ा सवाल जो राजनीतिक पंडितों के मन में है वो ये कि अजित पवार संकट की इस घड़ी में चाचा शरद पवार के साथ रहेंगे या फिर बगावत का झंडा बुलंद करेंगे.