close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सुबह-सुबह भूकंप के झटकों से हिला निकोबार द्वीप, 4.5 की थी तीव्रता

यह भूकंप के झटके सुबह 7.49 बजे महसूस किए गए. भूकंप के झटके कुछ देर तक महसूस किए गए. इन भूकंप के झटकों में अभी तक किसी प्रकार की जानमाल की हानि की जानकारी नहीं मिली है. 

सुबह-सुबह भूकंप के झटकों से हिला निकोबार द्वीप, 4.5 की थी तीव्रता
फाइल फोटो

नई दिल्ली: रविवार को निकोबार द्वीप समूह की धरती एक बार फिर भूकंप के झटकों से हिल गई है. रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 4.5 बताई जा रही है. जानकारी के मुताबिक, यह भूकंप के झटके सुबह 7.49 बजे महसूस किए गए. भूकंप के झटके कुछ देर तक महसूस किए गए. इन भूकंप के झटकों में अभी तक किसी प्रकार की जानमाल की हानि की जानकारी नहीं मिली है. 

21 मई को भी महसूस किए गए थे झटके
बता दें कि इससे पहले 21 मई को निकोबार द्वीप समूह पर देर रात भूकंप के झटके महसूस किए थे. भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक, 21 मई को आए भूकंप की झटकों की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.5 दर्ज की गई थी. 

बता दें कि इससे पहले निकोबार द्वीप समूह और उत्तराखंड में शुक्रवार (17 मई) देर रात भी भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. निकोबार द्वीप में दो बार भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. निकोबार द्वीप पहला भूकंप रात 11:59 बजे आया था, जिसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.5 रही. यहां दूसरा झटका करीब आधे घंटे बाद 12:35 बजे महसूस किया गया. रिक्टर पैमाने पर दूसरे भूकंप की तीव्रता 4.9 मापी गई थी.

 

क्यों महसूस किए जाते हैं भूकंप के झटके
धरती की ऊपरी सतह सात टेक्टोनिक प्लेटों से मिल कर बनी है, जहां भी ये प्लेटें एक-दूसरे से टकराती हैं वहां पर भूकंप का खतरा पैदा हो जाता है. भूकंप तब आता है, जब ये प्लेट्स एक-दूसरे के क्षेत्र में घुसने की कोशिश करती हैं.