Breaking News

आंध्रप्रदेश: विजयनगरम में प्याज के लिए मची भगदड़ में कई लोग घायल

आंध्रप्रदेश के विजयनगरम में गुरुवार को प्याज के लिए भगदड़ मच गई. भगदड़ में कई लोग घायल हो गए.

आंध्रप्रदेश: विजयनगरम में प्याज के लिए मची भगदड़ में कई लोग घायल
देशभर में प्याज की महंगी कीमतों को लेकर हाहाकार मचा हुआ है.

नई दिल्ली: देशभर में प्याज की महंगी कीमतों को लेकर हाहाकार मचा हुआ है. आंध्रप्रदेश के विजयनगरम में गुरुवार को प्याज के लिए भगदड़ मच गई. भगदड़ में कई लोग घायल हो गए. लोगों को जब पता चला कि मंडी में प्याज आ गया है तो वे मंडी के गेट पर आकर इकट्ठा हो गए. लोगों ने मंडी का गेट तोड़ दिया. इसके बाद भगदड़ मच गई जिसमें कई लोग घायल हो गए. 
 
उधर, दिल्ली में गृहमंत्री अमित शाह ने मंत्रियों के समूह के साथ बैठक की. सरकार जमाखोरों पर कार्रवाई की बात कर रही है लेकिन प्याज की कीमतें कम से कम अभी काबू में नहीं आ रही हैं. ZEE NEWS ने आज प्याज पर ग्राउंड रिपोर्टिंग की. मंडी और बाजारों में उतरकर लोगों से जाना कि आखिर प्याज पर रिएलिटी है क्या, सच्चाई क्या है.

कई शहरों में प्याज ने 150 का आकंड़ा तक छू लिया है. जाहिर है जनता परेशान है तो विपक्ष को सरकार को घेरने का मौका मिल गया. कांग्रेस प्याज की कीमतों में लगी आग का मुद्दा संसद में उठा चुकी है और आज कांग्रेस सांसदों ने संसद परिसर में एक बार फिर प्रदर्शन किया. प्याज की बढ़ती कीमतों पर सरकार को घेर रही कांग्रेस के इस प्रदर्शन में बुधवार को जमानत पर छूटे पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम भी शामिल हुए और प्ले कार्ड लेकर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. 

ये भी देखें: 

प्याज के जख्म पर मंत्रियों ने छिड़का नमक
प्याज की कीमतें पब्लिक को रूला रही हैं लेकिन सरकार में बैठे मंत्री और सांसदों ने मज़ाक सूझ रहा है. सड़क से संसद के प्याज का मुद्दा गर्म है लेकिन नेता मसख़री कर रहे हैं. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्याज की बढ़ती कीतमों पर चौंकाने वाला बयान दिया है. सीतारमण ने कहा, "मैं इतना लहसुन प्याज नहीं खाती हूं आप चिंता मत करो. मैं ऐसे परिवार से आती हूं जहां लहसुन-प्याज से ज्यादा मतलब नहीं रखते हैं. 

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने कहा, "हमारे घर में कोई प्याज नहीं खाता, मैं नहीं बता सकता." बीजेपी सांसद सौमित्र खान का प्याज़ की बढ़ती क़ीमतों पर बेतुका बयान दिया. उन्होंने कहा, "प्याज़ के दाम बढ़ने पर जो सवाल खड़े कर रहे हैं वो फ़्लैट के दाम जब 3 करोड़ रूपये हो जाते हैं. तो कोई समस्या नहीं होती लोगों की."