Breaking News
  • #ImmunityConclaveOnZee : केंद्रीय आयुष मंत्री श्रीपद नाइक ने कहा कि कोरोना की दवा पर शोध जारी है.
  • #ImmunityConclaveOnZee : श्रीपद नाइक ने कहा - 6-7 सप्ताह में शोध पूरा हो जाएगा.
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, '8 बजे नाश्ता, 12 बजे दोपहर का खाना, शाम को 8 बजे तक खाना खा लें'
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, 'भगवान ने हमें इंसान बनाकर दुनिया की सबसे बड़ी दौलत दी है'
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, '6 घंटे की नींद जरूर पूरी करें और उससे ज्यादा सोएं भी नहीं'

कोरोना वायरस की दवा का किया दावा! आयुष मंत्रालय ने BHU को दी ट्रायल की मंजूरी

आयुष मंत्रालय ने बीएचयू के आयुर्वेद विभाग को कोरोना मरीजों पर दवा के ट्रायल करने की मंजूरी दे दी है. 

कोरोना वायरस की दवा का किया दावा! आयुष मंत्रालय ने BHU को दी ट्रायल की मंजूरी
कोरोना दवा के ट्रायल को मिली मंजूरी.

नई दिल्ली:  कोरोना वायरस (Coronavirus) की दवा पर पूरी दुनिया की निगाहें टिकी हुई हैं. इस बीच आयुष मंत्रालय ने काशी हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) की कोरोना दवा को हरी झंडी दे दी है. जिसके बाद बीएचयू का आयुर्वेद विभाग कोरोना मरीजों पर दवा का ट्रायल शुरू करेगा. 

22 मार्च को बीएचयू के आयुर्वेद संकाय ने आयुष मंत्रालय को एक पत्र लिखकर संभावित औषधियों के ट्रायल की अनुमति मांगी थी. जिसमें 24 मार्च को कोविड चेयरमैन को प्रस्ताव भेजा गया और 10 अप्रैल को यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भी पत्र लिखा गया था. कोरोना दवा के ट्रायल की अनुमति 23 जून को दी गई. प्रो. त्रिपाठी के मुताबिक प्रोजेक्ट में मरीजों पर शिरीषादि कसाय (काढ़ा) का असर देखने संग मैकेनिज्म का अवलोकन होगा. तीन माह के प्रोजेक्ट के लिए दस लाख स्वीकृत हैं. 

ये भी पढ़ें: क्या गर्म पानी से नहाने से नहीं होता Coronavirus? जान लें सवाल का सही जवाब

बीएचयू के आयुर्वेद विभाग के प्रोफेसर की मानें तो स्वीकृति राशि मंत्रालय की तरफ से आते ही काम शुरू हो जाएगा. काढ़े को लेकर प्रोफेसर ने बताया कि चरक सूत्र-25 में शिरीष विषनाशक है. शिरीषादि कसाय जहर को खत्म करेगा, जिससे रोग- प्रतिरोधक क्षमता बनी रहेगी. 

शिरीषादि कसाय में शिरीष संग वासा, मुलेठी, तेजपत्ता, कंडकारी आदि औषधीय पदार्थ शामिल हैं. मुलेठी कफ को बाहर निकलता है साथ ही यह बुद्धिवर्धक भी है. तेज पत्ता भूख बढ़ाता है और पेट साफ भी करता है. बता दें कि बीएचयू ने साल 1980 में सांस के रोग के लिए दवा खोजी थी.

बाबा रामदेव ने भी दवा बनाने का किया था दावा

हाल ही में योग गुरु बाबा रामदेव की पतंजलि कंपनी ने भी कोरोना दवा खोजने का दावा किया था. हालांकि बाबा रामदेव के दावे पर आयुष मंत्रालय ने ब्रेक लगाते हुए जांच होने तक दवा के प्रचार प्रसार पर रोक लगा दी थी. 

ये भी देखें-