समस्तीपुर में अपराधी हुए बेलगाम! रंगदारी नहीं देने पर दुकानदार की दिनदहाड़े की हत्या

किराना व्यवसायी चंद्रभूषण प्रसाद अपनी दुकान पर बैठे थे तभी बाइक सवार अपराधियों ने दुकान में घुसकर उन्हें पांच गोली मार दी और मौके से हथियार लहराते हुए भाग निकले.

समस्तीपुर में अपराधी हुए बेलगाम! रंगदारी नहीं देने पर दुकानदार की दिनदहाड़े की हत्या
समस्तीपुर में रंगदारी नहीं देने पर दुकानदार की दिनदहाड़े हत्या. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Samastipur: बिहार में अपराधियों के हौसले बुलंद है. अपराधियों में कानून का कोई खौफ नहीं दिख रहा है. इसकी तस्दीक समस्तीपुर की ताजा घटना कर रही है. यहां बेखौफ अपराधियों ने किराना व्यवसायी की दिनदहाड़े हत्या कर दी. बाइक सवार अपराधियों ने दिनदहाड़े किराना व्यवसायी चंद्रभूषण प्रसाद को गोलियों से भून डाला, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई.  

मामला मुसरीघरारी थाना क्षेत्र के उदा पेठिया बथुआ का है. किराना व्यवसायी चंद्रभूषण प्रसाद अपनी दुकान पर बैठे थे तभी बाइक सवार अपराधियों ने दुकान में घुसकर उन्हें पांच गोली मार दी और मौके से हथियार लहराते हुए भाग निकले.

ये भी पढ़ें-गोपालगंज में अपराधी बेखौफ! आपसी विवाद में की ताबड़तोड़ फायरिंग

पुलिस ने शिकायत का नहीं लिया संज्ञान
जानकारी के अनुसार, मृतक चंद्र भूषण प्रसाद के बेटे रवि कुमार के मुताबिक कुछ दिन पहले ही अपराधियों ने उनके पिता से पांच लाख रुपए रंगदारी की मांग की थी.  चंद्र भूषण प्रसाद ने रंगदारी मांगने की शिकायत भी मुसरीघरारी थाने में दर्ज कराई थी लेकिन पुलिस ने कोई संज्ञान नहीं लिया. अपराधी रंगदारी नहीं दिए जाने और थाने में शिकायत से नाराज हो गए और फिर उनकी गोली मारकर हत्या कर दी. 

5 लाख की रंगदारी के लिए हत्या
प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, एक बाइक पर तीन की संख्या में अपराधी दुकान पर पहुंचे और फायरिंग करने लगे, अपराधियों ने ताबड़तोड़ चंद्र भूषण प्रसाद को पांच गोली मारी. गोली लगने के तुरंत बाद ही स्थानीय लोग दुकानदार को अस्पताल लेकर जाने लगे लेकिन रास्ते मे ही उनकी मौत हो गई. ग्रामीणों ने भी बताया की एक सितंबर को अपराधियों ने पांच लाख रुपए रंगदारी मांगी थी और रंगदारी नहीं देने के कारण ही उनकी गोली मारकर हत्या कर दी गई.

ये भी पढ़ें-जिम ट्रेनर पर हमले के आरोप में डॉक्टर दंपती गिरफ्तार, ये थी वारदात की वजह

दिनदहाड़े मर्डर के बाद लोगों में आक्रोश
वहीं, दिनदहाड़े एक व्यवसायी की हत्या के बाद लोगों में आक्रोश है. वारदात से गुस्साए ग्रामीणों ने मुसरीघरारी एनएच-28 (NH-28) को जाम कर दिया और आगजनी भी की. प्रदर्शनकारियों ने अपराधियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग की. फिलहाल पुलिस अपराधियों की तलाश में है लेकिन लोगों को आरोप है कि अगर पुलिस ने चंद्र भूषण प्रसाद की शिकायत को गंभीरता से लिया होता तो उनकी जान बच गई होती.

(इनपुट-संजीव नैपुरी)