आदिवासी महिलाओं की बदली जिंदगी! फूलो झानो आशीर्वाद अभियान के तहत दीदी हेल्पलाइन कॉल सेंटर शुरू
X

आदिवासी महिलाओं की बदली जिंदगी! फूलो झानो आशीर्वाद अभियान के तहत दीदी हेल्पलाइन कॉल सेंटर शुरू

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेने ने फूलो झानो आशीर्वाद अभियान के तहत दीदी हेल्पलाइन कॉल सेंटर का आगाज़ किया. 

आदिवासी महिलाओं की बदली जिंदगी! फूलो झानो आशीर्वाद अभियान के तहत दीदी हेल्पलाइन कॉल सेंटर शुरू

Ranchi: रांची में फूलो झानो आशीर्वाद अभियान के तहत आजीविका उपलब्धता दीदी हेल्पलाइन कॉल सेंटर का मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने शुभारंभ किया. दीदी हेल्पलाइन राज्य का पहला कॉल सेंटर होगा, जिसका संचालन सखी मंडल की दीदियों के जरिये किया जाएगा. इस हेल्पलाइन में सखी मंडल की दीदियों को कॉल सेंटर के कार्यों के लिए प्रशिक्षित किया गया है.

दीदी हेल्पलाइन कॉल सेंटर की शुरुआत फूलो झानो आशीर्वाद अभियान के तहत सखी मंडल के तहत काम कर रही महिलाओं को आजीविका उपलब्ध कराने के लिए किया गया है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इस दौरान हड़िया-दारू बिक्री-निर्माण का काम छोड़ आजीविका के अन्य विकल्प का चयन करने वाली महिलाओं को प्रशस्ति पत्र, स्मृति चिन्ह और साड़ी देकर सम्मानित किया. इसके साथ ही कार्यक्रम में 'बीमा कराएं अभियान' के तहत सखी मंडल की करीब 25 लाख बहनों का बीमा भी कराया गया. 

इस मौके पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने फूलो झानो आशीर्वाद योजना के लाभुकों से सीधा संवाद भी किया. इस दौरान कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा की झारखंड की जिन वीरांगनाओं फूलो झानो के नाम पर योजना की शुरूआत की गई, आज उसका सार्थक परिणाम सामने आने लगा है. गरीबी और मजबूरी में हड़िया-शराब निर्माण और बिक्री के कार्य से जुड़ी महिलाओं ने योजना का लाभ लिया और अपने आत्मविश्वास के बदौलत बदलाव की कहानी गढ़ने लगी हैं. 

ये भी पढ़ें: झारखंड सरकार को नीति आयोग से 'न्याय' की आस! केंद्र पर सौतेलेपन के आरोप के बाद सियासत तेज

मुख्यमंत्री ने कहा की किसान, महिलाएं और ग्रामीणों के विकास से राज्य का विकास संभव है. मुख्यमंत्री ने राज्य की महिलाओं को पशुपालन और खेती के काम करने के लिए प्रेरित किया, और कहा की महिलाओं को हर क्षेत्र में आगे आना चाहिए. गाय पालन, मुर्गी पालन, खेती समेत अन्य व्यवसाय में सरकार उनका साथ देगी. अभी कुपोषण से मुक्ति दिलाने और आने वाली पीढ़ी को बेहतर स्वास्थ्य प्रदान करने के लिए स्कूली बच्चों को सप्ताह में छह दिन अंडा भोजन में देने का प्रावधान किया गया है, लिहाजा राज्य की महिलाएं मुर्गी पालन कर अंडा का उत्पादन करें, राज्य सरकार सभी अंडा खरीद लेगी. इसी तरह महिलाएं अन्य उत्पाद जैसे सब्जी, अनाज और पत्ते की थाली का भी निर्माण करें, सरकार उन्हें भी खरीदेगी.

वहीं इस मौके पर ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम ने कहा की राज्य की महिलाओं का सशक्तिकरण ही सरकार का लक्ष्य है. उन्होंने कहा की महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए फूलो झानो अभियान का शुभारंभ एक साल पहले किया गया था, महिलाएं को इसके तहत ब्याज मुक्त लोन उपलब्ध कराया गया, ताकि उन्हें सम्मानजनक आजीविका का साधन मिल सके. ग्रामीण विकास मंत्री ने कहा की राज्य की महिलाओं का सर्वांगीण विकास ही सरकार का लक्ष्य है.

बता दें की दीदी हेल्पलाईन कॉल सेंटर JSLPS के हेहल स्थित राज्य कार्यालय से संचालित होगा. इस हेल्पलाइन के टॉल फ्री नंबर 18004190400 एवं 18004197400 पर कॉल कर JSLPS यानि झारखंड स्टेट लाईवलीहुड प्रमोशन सोसाइटी की योजनाओं की जानकारी ली जा सकेगी. इस हेल्पलाइन का मकसद JSLPS की विभिन्न योजनाओं की जानकारी सुदूरवर्ती गांव के लोगों तक पहुंचना एवं समस्याओं के निराकरण के लिए काम करना है.

(इनपुट: कामरान)

Trending news